अजय श्याम को दूसरी बार भाजपा जिला महासू की कमान 

संगठनात्मक चुनाव में सर्वसम्मति से बने अध्यक्ष, आज होगा शिमला जिला अध्यक्ष पद का फैसला

शिमला, ठियोग –भाजपा संगठनात्मक चुनावी प्रक्रिया के तहत अब जिलों के अध्यक्षों की नियुक्तियां होने लगी हैं। इसी क्रम में जिला महासू से एक बार फिर अजय श्याम को अध्यक्ष नियुक्त किया गया। पार्टी कार्यकर्ताओं ने आपसी सहमति से श्याम को ही अध्यक्ष का जिम्मा सौंपने का फैसला लिया। ऐसे में अब वह दूसरी बार जिला महासू भाजपा अध्यक्ष की कमान संभालेंगे। बताया गया कि महासू से जिला अध्यक्ष पद पर अजय श्याम के अलावा कोई दूसरा दावेदार नहीं था। यही कारण है कि अजय श्याम को ही लगातार दूसरी बार महासू जिला की कमान मिल गई।  प्राप्त जानकारी के मुताबिक भाजपा महासू जिला के तहत पांच मंडल चौपाल, जुब्बल-कोटखाई, रोहडू़, रामपुर और ठियोग मंडल यानी पांच विधानसभा क्षेत्र हैं। ऐसे में अजय श्याम को पांच विधानसभा क्षेत्रों की जिम्मेदारी मिल गई है। वहीं, जिला शिमला भाजपा अध्यक्ष पद के लिए कई पदाधिकारियों में जंग छिड़ गई है। शिमला को भाजपा से दो जिलों में बांटा है, महासू और शिमला। शिमला जिला के तहत तीन मंडल शिमला शहरी, शिमला ग्रामीण और कुसुम्पटी आते हैं। कुल मिलाकर शिमला के तीन मंडल जिला शिमला का अध्यक्ष चुनेंगे। उल्लेखनीय है कि वर्तमान में संजय सूद जिला शिमला के अध्यक्ष हैं। ऐसे में देखना है कि क्या संजय सूद  को फिर से कमान मिलती है या फिर किसी नए चेहरे को मौका मिलेगा। इसकी असली तस्वीर बुधवार को सामने आएगी। भाजपा संगठनात्मक चुनावी शेड्यूल के मुताबिक 30 नवंबर तक जिला अध्यक्षों के लिए चुनाव होना है। जिला शिमला के वर्तमान अध्यक्ष संजय सूद और महासू के अध्यक्ष अजय श्याम के नेतृत्व में विधानसभा चुनावों में चार सीटों पर पार्टी को जीत मिली थी। रामपुर, शिमला ग्रामीण, कुसुम्पटी और ठियोग विधानसभा क्षेत्र में पार्टी को जीत नहीं मिल पाई थी। बाद में लोकसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशी को हर विधानसभा क्षेत्र में  लीड मिली।

विजय परमार, रवि मेहता या प्रमोद ठाकुर

भाजपा जिला शिमला के पद पर कब्जा करने के लिए तीन नेताओं में जंग छिड़ गई है। इनमें रवि मेहता, प्रमोद ठाकुर और विजय परमार शामिल हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक वर्तमान अध्यक्ष संजय सूद ने फिर से अध्यक्ष बनने के लिए इंकार कर दिया है। ऐसे में विजय परमार, रवि मेहता और प्रमोद ठाकुर में से किसी एक को जिला शिमला की कमान मिल सकती है।

तीसरी बार नहीं मिलेगी अध्यक्ष की कमान

भाजपा संगठनात्मक चुनावी प्रक्रिया के मुताबिक किसी भी पदाधिकारी को तीन बार अध्यक्ष बनने का मौका नहीं मिलेगा। भले ही अजय श्याम लगातार दूसरी बार जिला महासू के अध्यक्ष नियुक्त हो चुके हों, मगर वे अब तीसरी बार अध्यक्ष नहीं बन पाएंगे। यही परंपरा मंडल सहित प्रदेश अध्यक्ष के लिए भी लागू होगी। ऐसे में अब आने वाले समय में किसी भी पदाधिकारी को एक ही पद पर तीसरी बार मौका नहीं दिया जाएगा।

 

You might also like