अब झारखंड में एनडीए में फूट

चिराग का ऐलान, राज्य में अकेले चुनाव लड़ेगी लोजपा

रांची – महाराष्ट्र के बाद झारखंड में भाजपा की अगवाई वाले गठबंधन एनडीए में दरार पड़ गई है। लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद चिराग पासवान ने ऐलान किया है कि लोजपा आगामी झारखंड विधानसभा चुनाव अपने दम पर लड़ेगी। मंगलवार को ही पार्टी ने 50 सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम की लिस्ट जारी कर है। केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान के बेटे चिराग को हाल ही में पार्टी का नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया था। चिराग पासवान लगातार दो बार से बिहार की जमुई लोकसभा सीट से सांसद हैं। चिराग पासवान ने सोमवार को भी झारखंड में अकेले चुनाव लड़ने की अपनी मंशा जाहिर की थी। लोजपा अब तक भाजपा की अगवाई वाले गठबंधन एनडीए का हिस्सा थी। लोजपा ने झारखंड में एनडीए के सहयोगी के तौर पर छह सीटें मांगी थीं, लेकिन रविवार को भाजपा ने अपने 52 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी थी। इसके बाद ही सोमवार को चिराग पासवान ने कह दिया था कि हम झारखंड में अकेले चुनाव लड़ने को तैयार हैं। चिराग ने कहा कि हम इस बार टोकन के रूप में दी गई सीटों को स्वीकार नहीं करेंगे। हमने एनडीए के पार्टनर के रूप में छह सीटों की मांग की थी। भाजपा ने रविवार को उम्मीदवारों की जो सूची जारी की, उनमें से बहुत से उन सीटों पर हैं, जो हमने मांगी थीं।

एजेएसयू ने भी उठाया बगावती झंडा

झारखंड में एनडीए के एक और सहयोगी दल ऑल झारखंड स्टूडेंट यूनियन (एजेएसयू) ने सोमवार शाम बिना भाजपा से चर्चा किए 12 सीटों पर अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया था। इनमें से तीन सीटों पर रविवार को भाजपा ने भी प्रत्याशियों की घोषणा की थी। इस बाबत एजेएसयू का कहना है कि भाजपा उनको मजबूत सीटें नहीं दे रही है।

You might also like