गुरु की भक्ति में डूबा चंबा

 गुरुपर्व पर शहर में पंज प्यारों की अगवाई में निकली शोभायात्रा, गुरुद्वारों में अखंड पाठ का आगाज

चंबा –सिख धर्म के पहले गुरू श्री गुरु नानक देव के 550वें प्रकटोत्सव के उपलक्ष्य में सोमवार को शहर में भव्य शोभायात्रा निकाली गई। श्री गुरु अर्जुन देव जी महाराज गुरुद्वारा जुलाहकड़ी से आरंभ हुई शोभायात्रा शहर के विभिन्न पड़ावों से गुजरती हुई श्री गुरू सिंह सभा गुरुद्वारा जनसाली में जाकर समाप्त हुई। शहर में गुरुपर्व की शोभायात्रा का जोरदार स्वागत हुआ। शोभायात्रा की अगवाई पंच प्यारों ने की। उधर, गुरूपर्व को लेकर शहर के जनसाली व जुलाहकड़ी मोहल्ले में स्थित गुरुद्वारों को दुल्हन की तरह सजाया गया है। सोमवार दोपहर बाद शहर में गुरुपर्व पर भव्य शोभायात्रा जुलाहकडी से आरंभ होकर बस अड्डे व मुख्य बाजार से गुजरी। इस दौरान चौगान नं एक में दरबार साहिब से आए रागी जत्थे ने शब्द कीर्तन के जरिए गुरु महिमा का गुणगान कर संगत को निहाल किया। तदोपरांत शोभायात्रा ने श्री गुरू सिंह सभा जनसाली का रुख किया। सोमवार को श्री गुरू सिंह सभा जनसाली और श्री अर्जुन देव जी महाराज गुरुद्वारा में अखंड पाठ का शुभारंभ भी हुआ। अखंड पाठ की समाप्ति मंगलवार को होगी। इसके बाद गुरुद्वारों में कीर्तन दरबार सजाए जाएंगे। गुरुपर्व के मौके पर गुरुद्वारों में मंगलवार को गुरु के अटूट लंगर का आयोजन भी होगा। गुरुपर्व आयोजन समिति के सदस्य सतपाल सिंह ने बताया कि गुरुपर्व को लेकर शहर में सिख संगत पिछले कई दिनों से प्रभातफेरी के जरिए गुरु महिमा का गुणगान कर रही है।

You might also like