भारत को हर क्षेत्र में महान बना रहे हिमाचली

धर्मशाला में ‘डीएचडी’ ग्रैंड फिनाले में प्रधान संपादक अनिल सोनी के बोल

धर्मशाला –पीजी कालेज धर्मशाला के ऑडिटोरियम में ‘डीएचडी’ सीजन सात के ग्रैंड फिनाले में ‘दिव्य हिमाचल’ के प्रधान संपादक अनिल सोनी ने कहा कि ‘आओ हिमाचल आगे बढ़ें।’ उन्होंने कहा कि हिमाचल के पहाड़, बर्फ, नदियां, झरने और वातावरण सहित हर हिमाचली हर क्षेत्र में देश को महान बना रहा है। प्रदेश की प्रतिभाएं जब आगे बढ़कर देश का नाम रोशन करती हैं, तो इस बात का हर हिमाचली को गर्व होता है। प्रधान संपादक श्रीसोनी ने फिनाले के मंच से कहा कि खुद को देखो, हालात पर नजर रखो, यह इम्तिहान है, यहां सबकी निगाहें लगी हैं। उन्होंने कहा कि टेलेंटेड होना और सफलता मिलना अलग-अलग पहलू हैं। उन्होंने अनु कपूर की बात का उदाहरण देते हुए कहा कि टेलेंटेड होना बहुत मुश्किल प्रश्न है, लेकिन सफलता तिकड़म से भी मिल सकती है। वहीं जिसके पास प्रतिभा होगी, वह हर क्षेत्र में सफल होगा। उन्होंने राष्ट्रीय प्रेस दिवस के महत्त्व को देखते हुए मीडिया व सोशल मीडिया में चल रहे जल्दबाजी और दिखावे के खेल पर भी करारा प्रहार किया। प्रधान संपादक ने कहा कि हिमाचल की धरती वीरों की भूमि है, इसलिए इसे वीरभूमि कहा जाता है। देश का पहला परमवीर चक्र कांगड़ा के वीर की छाती पर सजता है, तो देश में किसी भी राज्य के सबसे अधिक परमवीर चक्र प्राप्त करने का भी गौरव हासिल है। उन्होंने कहा कि जीवन एक संघर्ष है और हिमाचल के पहाड़ ऊंचे हौसले रखते हुए यहां के झरनों और तेज बहती नदियों से भी हमें निरंतर चलने की बात सीखने को मिलती है। उन्होंने कहा कि हर समय में हिमाचली भारत देश को महान बनाते हैं। इस मौके पर उन्होंने सभी प्रतिभागियों को पे्ररित किया। साथ ही आए हुए सभी मेहमानों का गर्मजोशी के साथ स्वागत भी किया।  ‘दिव्य हिमाचल’ के मेगा इंवेट ‘डांस हिमाचल डांस’ सीजन-7 का साक्षी इस बार पूरा ‘दिव्य हिमाचल’ परिवार बना। दिल्ली से लेकर शिमला-चंबा और हर जिला के प्रतिनिधि विशेष रूप से कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए पहुंचे। प्रधान संपादक ने कहा कि ‘दिव्य हिमाचल’ परिवार के हरेक प्रतिनिधि की दृढ़ इच्छा शक्ति और मेहनत की बदौलत ही बड़े आयोजन किए जा रहे हैं।

You might also like