डा. रमेश इंडियन ऑर्थोपेडिक संघ के  प्रमुख

चंडीगढ़  – इंडियन ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन, नई दिल्ली के सेंट्रल आफिस ने रविवार को डा. रमेश कुमार सेन को इंडियन ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन के नए प्रमुख के रूप में निर्वाचित करने की घोषणा की है। डा. सेन वर्तमान में मैक्स हॉस्पिटल, मोहाली में इंस्टीच्यूट ऑफ आर्थोपेडिक्स के हैड और डायरेक्टर के तौर पर कार्यरत हैं। पूरे देश में आयोजित एक ऑनलाइन चुनाव में, डा. रमेश सेन ने दो अन्य उम्मीदवारों को हराकर डाले गए कुल वोटों में से 81 प्रतिशत वोट हासिल किए। वह 2019 में एसोसिएशन के वाइस प्रेजिडेंट और 2021 में प्रेजिडेंट के तौर पर कार्यभार संभालेंगे। इंस्टीच्यूट ऑफ आर्थोपेडिक्स भारत के 14000 से अधिक आर्थोपेडिक सर्जनों का एक संगठन है। डा. सेन 1993 में पीजीआई में असिस्टेंट प्रोफेसर के रूप में शामिल हुए और 2014 में प्रोफेसर के तौर पर रिटायर हुए। अपने 30 वर्ष से अधिक के अपने करियर के दौरान उन्होंने लगभग 200 रिसर्च पेपर लिखे और 14 बुक चैप्टर्स भी लिखे और 50 से अधिक देशों में 500 से अधिक गेस्ट लेक्चर दिए। उनके नाम से पांच रिसर्च पेटेंट भी हैं, जो कि उन्होंने काफी रिसर्च के बाद हासिल किए हैं। डा. सेन को अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर 25 से अधिक अवॉर्ड्स से सम्मानित किया गया है, जिसमें इंडियन ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन का प्रतिष्ठित प्रथम गोल्डन जुबली पुरस्कार भी शामिल है। उन्हें अमेरिका, कनाडा और जर्मनी की प्रमुख यूनिवर्सिटीज में प्रोफेसर के रूप में आमंत्रित किया गया है। उन्हें कई देशों में पोस्ट ग्रेजुएट एग्जामिनर होने का श्रेय भी प्राप्त है। डा. सेन को ज्वाइंट रिप्लेसमेंट सर्जरी में विशेषज्ञता प्राप्त है, जिसमें रिवीजन आर्थोप्लास्टी सर्जरी से निपटने का लंबा अनुभव शामिल है। उन्होंने देश के बाहर और अंदर दोनों जगह कई लाइव सर्जिकल ट्रेनिंग कोर्सेज में अपने सर्जिकल स्किल्स का प्रदर्शन किया है। वह इससे पहले इंडियन ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन की रिसर्च कमेटी के चेयरमैन, नॉर्थ जोन ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन और एसोसिएशन ऑफ पेल्वी-एसिटाबुलर सर्जंस ऑफ  इंडिया के प्रेजिडेंट भी रह चुके हैं।

You might also like