डीसी कांगड़ा ने जूस पिला कर तुड़वाया अनशन

नूरपुर – उपमंडल नूरपुर के तहत बनने वाले फोरलेन सड़क मार्ग की स्थिति स्पष्ट न होने पर फोरलेन लोक बॉडी के प्रमुख व अन्य लोग  29 अक्तूबर से आमरण अनशन पर बैठे हुए थे और गुरुवार को फोरलेन लोक बॉडी के प्रमुख राजेश पठानिया के आमरण-अनशन का 17वां दिन था व अशोक पठानिया के आमरण अनशन का दसवां दिन था। डीसी कांगड़ा राकेश कुमार प्रजापति ने  शाम लगभग चार बजे नूरपुर के चौगान में अनशन स्थल पर पहुंच कर राजेश पठानिया व अशोक पठानिया को जूस पिला कर उनका अनशन तुड़वाया।  इस अवसर पर डीसी कांगड़ा राकेश कुमार प्रजापति ने कहा कि फोरलेन एनएच की नोटिफिकेशन के बाद किन्हीं कारण के कारण इसकी प्रक्रिया बंद पड़ी थी और इसमें कई प्रभावित लोगों को बैंक के लोग के कारण परेशानियां आ रही थीं, जिस कारण यह अनशन चला था। उन्होंने कहा कि इनकी मुख्य मांगों में एक यह थी कि उनके बैंक लोन के कारण खाते एनपीए में चले गए थे, उनमें उन्हें सहूलियत मील व दूसरी मांग में उन्हें एनएच की तरफ से वादा चाहिए था। अगर उनकी जमीन ली जाए, तो पुराने रेट के हिसाब से 12 परसेंट ब्याज के ही हिसाब से ली जाए और दोनों मांगें सबंधित एजेंसी के माध्यम से पूरी की गई हैं और अनशन तोड़ा गया। इस अवसर पर फोरलेन लोक बॉडी के प्रमुख राजेश पठानिया ने आमरण अनशन तोड़ने के बाद कहा कि कुछ मांगों को लेकर उनका आमरण अनशन चला था और प्रशासन से उनकी पिछले तीन दिनों उनकी मांगों पर गंभीरता से विचार कर रहा था और उन्होंने उनकी मांगों को हल कर लिखित में दिया है और वह इस अनशन में सहयोग के किए सभी के आभारी है। इस अवसर पर एसडीएम नूरपुर डा. सुरिंद्र ठाकुर, नायब तहसीलदार देसराज ठाकुर, सिविल अस्पताल नूरपुर के एसएमओ डा. दिलवर सिंह एएसएचओ नूरपुर मोहन लाल भाटिया आदि मौजूद थे।

You might also like