डेंगू होने पर खाएं मेथी के पत्‍ते

डेंगू का बुखार बड़ों के मुकाबले बच्चों में सबसे ज्यादा तेजी से फैलता है। डेंगू होने पर तेज बुखार आता है। इसमें जोड़ों और सिर में तेज दर्द होता है। इसके साथ ही प्लेटलेट्स काउंट बहुत तेजी से गिरता है। अगर प्लेटलेट्स बहुत ही कम हो गया, तो जान जाने का भी डर होता है। खून की जांच से पता लगाया जा सकता है कि बुखार डेंगू है या नहीं…

इन दिनों डेंगू का प्रकोप फैला हुआ हैं। डेंगू एक ऐसी जानलेवा बीमारी है, जिसकी चपेट में आने से व्यक्ति की मौत तक हो जाती है। डेंगू मच्छर के काटने से होता है। डेंगू के मच्छर के बारे में खास बात यह है कि इसका मच्छर दिन में काटता है और इसका लार्वा साफ पानी में पनपता है। डेंगू का बुखार बड़ों के मुकाबले बच्चों में सबसे ज्यादा तेजी से फैलता है। डेंगू होने पर तेज बुखार आता है। इसमें जोड़ों और सिर में तेज दर्द होता है। इसके साथ ही प्लेटलेट्स काउंट बहुत तेजी से गिरता है। अगर प्लेटलेट्स बहुत ही कम हो गया, तो जान जाने का भी डर होता है। खून की जांच से पता लगाया जा सकता है कि बुखार डेंगू है या नहीं। डेंगू की कोई खास दवा अब तक सामने नहीं आ सकी है। इसमें बुखार कम करने वाली सामान्य दवाएं दी जाती हैं। इसके साथ ही मरीज को तरल पदार्थ काफी मात्रा में पीने को कहा जाता है, जिससे प्लेटलेट्स काउंट ज्यादा न गिर सके। प्लेटलेट्स कम होने पर अलग से प्लेटलेट ट्रांसफ्यूजन करना पड़ता है। डेंगू के बुखार में प्लेटलेट्स का स्तर बहुत तेजी से नीचे गिरता है अगर इसका इलाज तुरंत न मिले, तो यह जानलेवा भी हो सकता है। लेकिन डेंगू होने पर मेथी के पत्तों का सेवन करना लाभदायक साबित हो सकता है।

आइए जानते हैं कैसे  बढ़ाता है प्लेटलेट्स

 मेथी के पत्ते डेंगू के विषाक्त पदार्थ को बाहर निकालते हैं साथ ही वो डेंगू के वायरस को भी खत्म करते हैं। मेथी के पत्तों का सेवन करने से दर्द दूर होता है, जिससे बीमार व्यक्ति अच्छी नींद ले पाता है। वहीं इसके पत्ते को पानी में भिगोकर उस पानी को पीने से प्लेटलेट्स काफी तेजी से बढ़ते हंै।

कोलोन कैंसर का खतरा टाले

मेथी के पत्तों में मौजूद फाइबर बॉडी को डिटॉक्स करने में मदद करते हैं, जिससे कोलोन कैंसर होने का खतरा कम हो जाता है। इसलिए जितना हो सके आप अपनी डाइट में मेथी के पत्तों को शामिल करें।

बुखार से निजात दिलाए

 बुखार, कफ  और गले के दर्द से निजात दिलाने में मेथी के पत्ते महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। एक चम्मच मेथी को नींबू और शहद के साथ खाने से शरीर को आंतरिक पोषण मिलता है। इससे बुखार में काफी आराम मिलता है। मेथी में मौजूद एंटी इंफ्लेमेंटरी और एंटीपायरेटिक गुण डेंगू बुखार को कम करने में मदद कर सकते हैं। खासकर मेथी के पत्तों का पानी डेंगु बुखार के लिए फायदेमंद हो सकता है। डेंगू होने पर में हल्का एवं सुपाच्य आहार ही लेना चाहिए। रोगी को ताजा सूप, जूस और नारियल पानी का सेवन करना चाहिए।

 

You might also like