ड्राई फ्रूट-जड़ी बूटियों ने शिखर पर पहुंचाया

रामपुर बुशहर – अंतर्राष्ट्रीय लवी मेले का गुरुवार को समापन हो गया। लवी मेले का विधिवत समापन प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने किया। मेला कमेटी की तरफ से उन्हें शॉल व स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। समापन समारोह में उपस्थित व्यापारियों एवं लोगों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय लवी मेला सैकड़ों वर्ष पुराना मेला है। यह मेला भारत व चीन के बीच आपसी व्यापार के लिए जाना जाता है। उन्होंने कहा कि अब इस मेले में देश के आधुनिक उत्पादों की भी बिक्री होती है तथा लोकल पारंपरिक उत्पाद भी बेचा जाता है। उन्होने कहा कि ये केवल व्यापारिक मेला ही नही है बल्कि इस मेले के भीतर हमारी पुरानी संस्कृति की विशेष झलक दिखती है। आज भी यहां पर पारम्परिक वाद्य यंत्रों की खरीद फरोख्त, ऊनी वस्त्रों, ड्राई फ्रुट्स, जड़ी बुटियों की खरीद प्रमुख है जिसकी बदोलत आज यह मेला कई ऊंचाइयों को छू रहा है। उन्होंने कहा कि मेले में आज भी पारंपरिक संस्कृतिक की झलक साफ देखने को मिलती है। यह मेला कमेटी व यहां के लोगों का अथक प्रयास है। मेला आयोजन कमेटी के आयोजक व मेले में आए तमाम गणमान्य लोगों का धन्यवाद किया। मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि क्षेत्र के विकास के लिए किसी भी पार्टी से उपर उठकर विकास करने की सोच होनी चाहिए और भाजपा इस ही प्रकार विकास करने में विश्वास रखती है। उन्होंने कहा कि मंडी संसदीय क्षेत्र के सांसद राम स्वरूप शर्मा को रामपुर से 12 हजार की लीड दिलवाना इस बात का प्रतीक है कि रामपुर केंद्र की मोदी सरकार के साथ है। उन्होंने लोगों को लवी मेले के समापन पर बधाई और शुभकामनाएं दीं।

इन्वेस्टर मीट पर राजनीति न करे कांग्रेस

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि पूरे देश में निजीकरण को विकास के लिए जरूरी देखा जा रहा है। इसी को देखते हुए हिमाचल में भी इन्वेस्टर मीट का आयोजन किया गया, ताकि यहां पर भी विकास और रोजगार के नए अवसर पैदा हो सके। कांग्रेस इस पर भी राजनीति कर रही है। उन्होंने स्थानीय विधायक नंदलाल का नाम लेते हुए कहा कि जहां पर इनकी सरकार है वह भी इंनवेस्टर मीट के आयोजन के लिए रणनीति बना रहे है। ऐसे में इस विकासात्मक कार्य में सभी को राजनीति से उपर उठकर आगे आना चाहिए।

बागबानों की सरकार को है फिक्र

मुख्य सचेतक नरेंद्र बरागटा ने अपने संबोधन में कहा कि मौजूदा सरकार बागवानी व कृषि के बारे में न केवल सोच रही है बल्कि कार्य व योजनाएं बना रही है। इससे पहले भी जो सरकार थी उनमें यहां के नेता होते हुए भी वह बागबानी व कृषि के लिए कुछ नहीं कर पाए। ऐसे में अब जो विकास हो रहा है उसमें सभी को अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी चाहिए।

दो वर्ष में दी सात हजार नौकरियां

शिक्षामंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि पूर्व में जो सरकार थी वह अपने पूरे कार्यकाल में जितनी नौकरियां देती थीं मौजूदा सरकार ने वह एक वर्ष के अंतराल में ही दे दी। अभी दो वर्ष के कार्यकाल में मौजूदा सरकार ने सात हजार सरकारी नौकरी देने का रिकार्ड बनाया है।

मौके पर ये रहे मौजूद

इस मौके पर मंडी लोकसभा क्षेत्र के सांसद राम स्वरूप शर्मा, शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज, मुख्य सचेतक एवं जनमंच संयोजक नरेंद्र बरागटा, आनी के विधायक किशोरी लाल सागर, रामपुर के विधायक नंद लाल, उपायुक्त शिमला अमित कश्यप, एसपी शिमला ओमापती जमवाल, पूर्व मंत्री सिंघीराम, भाजपा नेता प्रेम सिंह ध्रैक, मंडल अध्यक्ष शशी भूषण श्याम, प्रदेश भाजयुमो प्रवक्ता विजय गुप्ता, प्रदेश सचिव महिला मोर्चा सुषमा मखैक, बृजलाल, एसडीएम रामपुर नरेंद्र चौहान के अलावा अन्य गणमान्य लोग भी मौजूद रहे।

You might also like