दत्तनगर स्कूल में बताए नशे के नुकसान

डा. रोहिणी और नीरथ की महिला स्वास्थ्य कर्मचारी रूकमणि देवी विशेष रूप से मौजूद रहीं

रामपुर बुशहर –राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल दत्तनगर मंे मंगलवार को हिमाचल प्रदेश स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजित नशा मुक्ति अभियान के तहत छात्रों को जागरूक किया गया। कार्यक्रम में स्कूल की प्रधानाचार्य निशा कुमारी ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। जबकि राजकीय आर्युवेदिक स्वास्थ्य कंेद्र दत्तनगर की चिकित्सक डा. रोहिणी व स्वास्थ्य केंद्र नीरथ की महिला स्वास्थ्य कर्मचारी रूकमणि देवी विशेष रूप से मौजूद रही। इस बात की जानकारी देते हुए स्कूल की शिक्षिका बिंदू कश्यप ने बताया कि कक्षा छठी से जमा दो तक छात्रों को स्वास्थ्य विभाग द्वारा नशा मुक्ति अभियान के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। उन्होंने कहा कि नशा एक धीमा जहर है, जिससे हम सभी को दूर रहना चाहिए और अपने साथियों को भी इससे बचने के लिए जागरूक करना चाहिए। उन्होंने छात्रों को नशे के कारण और इससे दूर रहने के उपाए भी बताए और इसके सेवन से होने वाली बीमारियों की भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि नशे दूर रहने वाला छात्र ही पढ़ लिखकर अपने माता पिता, गुरुजन, स्कूल और क्षेत्र का नाम रोशन कर सकता है। प्रधानाचार्य ने इस आयोजन के लिए स्वास्थ्य विभाग का आभार व्यक्त किया और उन्होंने भी छात्रों को नशे दूर रहने के लिए प्रेरित किया। वहीं दूसरी राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मझेवटी में भी नशा निषेध जागरूकता एवं निवारण कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें डा. उपासना द्वारा बच्चों को जागरूक किया गया एवं शपथ दिलाई गई। इस अवसर पर स्कूल के प्रधानाचार्य पुष्पा नंनद गुप्ता, उपप्रधानाचार्य यशपाल ठाकुर, मंच संचालक डीपीई चेतन शर्मा तथा स्कूल के समस्त अध्यापक मौजूद रहे।

You might also like