पहाड़ों पर बर्फबारी… मैदानों में जमकर बारिश

चंबा में खूब बरसे मेघ, रुक-रुक कर दिन भर जारी रहा बारिश का दौर, गर्म कपड़ों में लिपटे लोग

चंबा –पहाड़ों की चोटियों पर पिछले दो दिनों से हो रही हल्की बर्फबारी एवं निचले क्षेत्रों में बारिश के बाद गुरुवार देर रात मौसम ने अपन तल्ख रुख दिखाना शुरू कर दिया। गुरुवार को शाम आठ बजे के बाद जिला के ऊपरी एवं मध्यम पहाड़ी क्षेत्रों में शुरू हुई बर्फबारी एवं मैदानी क्षेत्रों में गरजनों के साथ हुई जोरदार बारिश रुक-रुक कर रात भर जारी रही। वहीं शुक्रवार को दिन के वक्त भी गरजन के साथ ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी एवं मैदानों में जमकर बारिश हुई। मौसम के बिगड़े मिजाज से नवंबर माह में ही चंबा के मध्यम पहाड़ी क्षेत्रों तक सफेद सुनामी पहुंच गई है। उधर गुरुवार रात को हुई बर्फबारी की बात करें तो चंबा चुवाड़ी को जोड़ने वाले वाया जोत सड़क मार्ग के काला टोप के नीचे वाले क्षेत्रों के अलावा खजियार, लक्कड़मंडी, चुराह के चांजू भरड़ा सहित अन्य ऊपरी क्षेत्रों वहीं सूलणी के संघणी लंगेरा के साथ लगते ऊपरी इलाकों मंे हुई तीन से चार इंच तक बर्फबारी ने किसानों को टेंशन में डाल दिया है। इन क्षेत्रों मंे थ्रेशिंग से पहले घर की छतों पर रखी मक्की की फसल पर बर्फबारी हो गई है। साथ ही इन ऊपरी क्षेत्रों में लाखों की मटर की फसल भी बर्फ के नीचे दबने से तबाह हो गई है। उधर जिला के साच पास, मणिमहेश सहित अन्य ऊंचाई वाले क्षेत्रों की बात करें तो यहां पर दो से तीन फुट तक बर्फबारी का समाचार है। वहीं जिला में हुई बारिश बर्फबारी के बाद तापमान में आई भारी गिरावट से पहाड़ी जिला चंबा प्रचंड ठंड की चपेट मंे आ गया है। तापमान में भारी गिरावट आने से चंबा का मिनीमम तापमान 7.4 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया है। वहीं जनजातीय क्षेत्रों के अलावा जिला के पहाड़ी क्षेत्रों मंे जमाव बिंदु तक पहुंचे तापमान से लोगांें को घरों में ही कैद कर दिया है। उधर मौसम विशेषज्ञों की मानंे तो आगामी दो से तीन दिनों तक चंबा में मौसम पूरी तरह साफ रहने के साथ प्रचंड धूप खिलने की संभावना है।

You might also like