पॉलिसी बनने तक पांवटा में नहीं चलेंगे ई-रिक्शा

 पांवटा साहिब में बंद करने के बावजूद चलाने पर एक दर्जन ई-रिक्शा जब्त, आरटीओ सिरमौर ने सुनी चालकों की समस्या

पांवटा साहिब –पांवटा साहिब में फिलहाल ई-रिक्शा के सड़क पर आने की संभावनाएं नहीं बन रही हैं। विभाग अब दोबारा बिना पॉलिसी के ई-रिक्शा को नहीं चलने देगा। जानकारी के मुताबिक पांवटा साहिब में फिलहाल ई-रिक्शा नहीं चलेंगे। आरटीओ सिरमौर सोना चौहान ने साफ कर दिया है कि जब तक सरकार से पॉलिसी तय नहीं हो जाती शहर की सड़कों पर ई-रिक्शा नहीं चलेंगे। उधर ई-रिक्शा बंद होने पर भी कई लोग रिक्शा चला रहे थे। पुलिस ने  ऐसे एक दर्जन से अधिक ई-रिक्शा को जब्त कर लिया है। मंगलवार को आरटीओ सिरमौर सोना चौहान पांवटा साहिब पहुंची और ई-रिक्शा चालकों से बात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि पांवटा साहिब में बिना पॉलिसी तय किए ई-रिक्शा नहीं चलेंगे। बिना पॉलिसी और मानकों के ई-रिक्शा चलाए जाने से लोगों की जान को सीधेतौर पर खतरा हो सकता है। इसके लिए सरकार से बात की जा रही है। जैसे निर्देश होंगे आगामी कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी। गौर हो कि पांवटा शहर में 150 के करीब स्थानीय निवासियों के ई-रिक्शा चल रहे थे, लेकिन अचानक ही पांवटा साहिब मंे ई-रिक्शा की बाढ़ सी आ गई और 400 से अधिक ई-रिक्शा बाहरी राज्यों के पांवटा में अवैध तरीके से ई-रिक्शा चलने शुरू हो गए। इससे सड़क दुर्घटना का भय, क्राइम और भीड़भाड़ अधिक हो गई। सरकार के आदेश के बाद परिवहन विभाग ने इन्हें बंद कर दिया। वहीं बताया जा रहा है कि पांवटा शहर में ई-रिक्शा चलाने के लिए अधिकारियों पर राजनैतिक दवाब बनाया जा रहा है, जबकि इन ई-रिक्शा की न तो कोई रजिस्ट्रेशन है न चालक लाइसेंस और न ही इंश्योरेंस। ऐसे में चालक के साथ-साथ सवारियों की भी जान सड़क पर हमेशा खतरे में रहने की संभावना बनी रहती है। उधर ई-रिक्शा के प्रधान नवाब ने बताया कि उनका प्रतिनिधिमंडल विधायक चौधरी सुखराम की अगवाई में परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर से मिला है।  परिवहन मंत्री ने निदेशक परिवहन हिमाचल प्रदेश को ई-रिक्शा को लेकर जल्द से जल्द पॉलिसी तैयार करने के लिए कहा है। प्रधान ई-रिक्शा संघ ने कहा कि प्रदेश सरकार से निवेदन है कि जल्द से जल्द पॉलिसी तैयार करके स्थानीय रिक्शा चलाने की अनुमति दी जाए, ताकि इससे जुड़े लोगों का रोजगार बना रह सके। थाना प्रभारी पांवटा साहिब संजय शर्मा ने बताया कि एक दर्जन से अधिक अवैध तरीके से चल रहे ई-रिक्शा को पुलिस थाने पहुंचाया गया है।

 क्या कहते हैं आरटीओ सिरमौर सोना चौहान

आरटीओ सिरमौर सोना चौहान ने बताया कि जल्द से जल्द पॉलिसी तैयार कर ई-रिक्शा की रजिस्ट्रेशन और अन्य अधिनियम के तहत शुरू किए जाएंगे, लेकिन तब तक ई-रिक्शा चलाए जाने की अनुमति नहीं दी जा सकती। जो बिना अनुमति के ई-रिक्शा चलाएगा पुलिस कार्रवाई करेगी।

You might also like