प्रदूषण के लिए उत्तरदायी कौन?

-किशन सिंह गतवाल, सतौन, सिरमौर

आजकल बढ़ता प्रदूषण, विशेष कर वायु प्रदूषण एक ज्वलंत समस्या बन चुकी है। वायु में प्रदूषण के कण इतने सघन हैं कि दृश्यता बहुत कम होती है। इससे ट्रेनें, हवाई सेवाएं तक बुरी तरह से प्रभावित होती हैं। प्रदूषण से श्वसन प्रक्रिया बहुत प्रभावित होती है। अकसर पंजाब और हरियाणा के किसानों को इसके लिए उत्तरदायी माना जाता है। प्रश्न उठता है कि क्या केवल पराली जलाने से इतना प्रदूषण होता है? या कोई और भी कारण हैं जो प्रदूषण को बढ़ाते हैं? पंजाब और हरियाणा के किसान समय पर अन्न, बीज पैदा कर के सब की उदर पूर्ति करते हैं, सीधे-सीधे उन्हें ही प्रदूषण फैलाने के लिए जिम्मेदार ठहरा दिया जाता है। हमारे त्योहार, पर्व और अन्य आतिशबाजी से क्या प्रदूषण नहीं फैलता? पराली नष्ट करने का कोई कारगर उपाय सरकार द्वारा क्यों नहीं किया जाता है? केवल सम-विषम नंबर वाले वाहन चलाने से प्रदूषण कम होने की कल्पना नहीं की जा सकती।

 

You might also like