बरसात…अभी भी नहीं भरे जख्म

घुमारवीं – बरसात में मूसलाधार बारिश से घुमारवीं में मची तबाही से दो माह बाद भी खतरा बरकरार है। बरसात में बारिश के दिए जख्म अभी तक भरे नहीं हैं। बारिश के मौसम में ध्वस्त डंगों का निर्माण न होने के कारण लोगों में खौफ है। बारिश में उखड़ी सड़कों की हालत खराब है। डंगों के गिरने से लोगों के मन में बारिश का खौफ सता रहा है। बारिश से गिरे डंगों को दो माह से अधिक समय बीत गया, लेकिन इनको अभी तक ठीक नहीं किया गया। जिससे गिरे हुए डंगों से लोगों के घरों व सड़कों पर खतरा बना हुआ है। जानकारी के मुताबिक बीते अगस्त माह में मूसलाधार बारिश होने से सुन्हाणी रोड से राधा स्वामी सत्संग घर घुमारवीं की ओर जाने वाली सड़क का डंगा धराशायी हो गया था। इससे यहां के छह मकान खतरे की जद में आ गए हैं। लेकिन, दो माह बीत जाने के बाद भी इस डंगे का निर्माण नहीं हो पाया। जिसके कारण खतरे की जद में आए मकानों में रहने वाले लोग अभी भी खौफ के साए में जीवन यापन कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि  यदि समय पर डंगे का निर्माण नहीं किया गया, तो यहां पर रिहायशी मकान भी इसकी जद में आ जाएंगे। जिससे यहां पर कभी भी अप्रिय घटना घट सकती है। लोगों ने सरकार तथा प्रशासन से सड़क पर डंगा लगाने की मांग की है। जिससे लोग राहत ले सके। उधर, नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी प्रकाश चंद ने बताया कि बजट आने के बाद डंगे का निर्माण कर दिया जाएगा।

You might also like