बलि को मांगे जा रहे बकरा और पैसे

सरकाघाट के बाद अब सुंदरनगर में आस्था से खिलवाड़

सुंदरनगर – धर्म की आड़ में सरकाघाट में बुजुर्ग महिला से बदसलूकी मामले की अभी जांच भी पूरी नहीं हो पाई है कि सुंदरनगर नगर परिषद के बनायक वार्ड से इस तरह का एक और मामला सामने आया है। इसमें कुछ नशेड़ी युवकों की टोली द्वारा धर्म की आड़ में अपने हित साधने के लिए लोगों को निशाना बनाया जा रहा है और उन्हें देवता व देवी का डर दिखा कर बकरे की बलि मांगी जाती है। फिर उनसे पैसे ऐंठे जाते हैं। पैसा ना देने पर लोगों को उकसा कर मारपीट तक की जाती है। इस बारे पूरे मामले का पटाक्षेप करते हुए पीडि़त तनुज शर्मा निवासी बनायक ने बताया कि पिछले लंबे से यह धंधा कुछ नशेड़ी युवकों द्वारा चलाया जा रहा है। तनुज ने बताया कि ये लोग क्वारी माता मंदिर और गुग्गा जाहरवीर मंदिर में अकसर ऐसी वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। उनके परिवार व रिश्तेदारों पर यह पहले भी जानलेवा हमला कर चुके है, जिसकी पुलिस थाना सुंदरनगर में आईपीसी की धारा 451, 323, 504, 506 व 34 के तहत शिकायत दर्ज है। तनुज ने बताया कि ये लोग गुग्गा जाहरवीर मंदिर व जमीन, जिसमें सुकेत रियासत के समय से उनके पूर्वज पुजारी व प्रबंधक के तौर पर तैनात हैं, को भी कब्जाने की कोशिश में हैं। उन्होंने बताया कि उमेश सेन, चंदन ठाकुर, लाल सिंह, अंशुल सेन, राकेश ठाकुर, निखिल, अभिषेक यह एक दर्जन से ज्यादा लोगों की टोली है। इसमें एक वकील भी शामिल हैं। इसके वीडियो व ऑडियो के रूप में प्रमाण मौजूद हैं और इसकी शिकायत पुलिस महानिदेशक शिमला को शिकायत कर सुरक्षा व कार्रवाई की मांग कर चुके हैं।

You might also like