बारिश…अयोध्या ने रोकी शाह की राह

इन्वेस्टर्स मीट में नहीं पहुंच पाए गृह मंत्री, रेल मंत्री पीयूष गोयल की मौजूदगी में ही हुआ समापन

धर्मशाला- हिमाचल में पहली बार आयोजित हो रही ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट में दोपहर बाद बारिश के खलल और देश के सबसे बड़े मुद्दे राम मंदिर की शनिवार को होने वाली सुनवाई ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के कदम रोक दिए। पुलिस मैदान में सजी इन्वेस्टर्स मीट के समापन समारोह की अध्यक्षता करने को आने वाले अमित शाह सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर के फैसले की सुनवाई तय होने के कारण स्मार्ट सिटी नहीं पहुंच पाए। हालांकि धर्मशाला में गुरुवार को देर रात तेज बारिश के बाद शुक्रवार को बारिश थम गई थी, लेकिन मैदान में हल्का कीचड़ होने पर मैट बिछाकर उसे ठीक कर दिया गया था, लेकिन दोपहर बाद एकदम से जोरदार बारिश शुरू होने के बाद पुलिस मैदान का खाली हिस्सा पूरी तरह पानी से भर गया, जिस कारण देश-विदेश से आने वाले निवेशकों सहित मेहमानों को भी काफी परेशान होना पड़ा। बावजूद इसके वाटरप्रूफ टेंट में बेहतर व्यवस्था देश-विदेश के निवेशकों के लिए मौजूद रही। हालांकि बारिश के खलल के कारण मैदान तालाब में बदल गया। इतना ही नहीं, ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट में बारिश के खलल के कारण ही अचानक गृह मंत्री अमित शाह का धर्मशाला आने का कार्यक्रम भी रद्द कर दिया गया, जिसके बाद रेल मंत्री पियूष गोयल ने ही समापन समारोह में बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार गुरुवार और शुक्रवार को तेज़ बारिश की संभावना जताई गई थी। बावजूद इसके समापन को छोड़ मीट अच्छी तरह ही हो गई है। पीएम मोदी के आने के दौरान भी खराब मौसम के बावजूद कार्यक्रम में बारिश का कोई भी खलल देखने को नहीं मिला। बता दें कि सीएम ने खुद इंद्रुनाग मंदिर पूजा-पाठ कर सही आयोजन को लेकर आशीर्वाद भी लिया था।

हर आयोजन के लिए इंद्रूनाग का आशीर्वाद अहम

हिमाचल के बारिश के देवता इंद्रूनाग के आशीर्वाद और नाराजगी धर्मशाला में होने वाले बड़े आयोजन पर बहुत निर्भर करती है। 15 सितंबर को धर्मशाला स्टेडियम में भारत-साऊथ अफ्रीका के मैच रद्द होने तक मात्र शहर व आसपास के क्षेत्र में ही लगातार बारिश जारी रही थी। मैच रद्द होने की घोषणा के साथ ही बारिश भी थम गई थी। ऐसे में धर्मशाला में बारिश के देवता इंद्रूनाग के आशीर्वाद से ही बड़े आयोजन सफल होते हैं।

You might also like