बुजुर्ग के गुनहगारों पर एक और मुकदमा

सरकाघाट प्रकरण में ती न और आरोपी गिरफ्तार, गांव में मिली जूतों की माला, पुलिस ने घर से जुटाए सबूत

सरकाघाट – मंडी के सरकाघाट उपमंडल की गाहर पंचायत के समाहल गांव में 81 वर्षीय बुजुर्ग महिला के साथ हुई क्रूरता के मामले में पुलिस ने तीन और लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही आरोपियों के खिलाफ एक और मुकदमा दर्ज हुआ है। बता दें कि इस मामले में 21 लोग पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके हैं। इसके बाद आरोपियों की संख्या 24 हो गई है। इस मामले में एक लॉ स्टूडेंट ने मानवाधिकार आयोग को भी शिकायत भेज दी है। वहीं, रविवार को गिरफ्तार की गई पीडि़ता की सगी बहन, भानजे और पुजारी की बेटी और बेटे को कोर्ट ने सोमवार को एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। 17 आरोपी पहले से ही तीन दिन के पुलिस रिमांड पर हैं। सोमवार को पुलिस अधीक्षक मंडी गुरदेव शर्मा ने अपनी देखरेख में बुजुर्ग महिला राजदेई, उसकी बेटी और दामाद को पुलिस सुरक्षा में गांव ले जाकर जांच पड़ताल की। वृद्धा ने पुलिस को अपना घर, मंदिर और वह अन्य सभी जगह दिखाईं, जहां उसके साथ क्रूरतापूर्ण व्यवहार किया गया था। पुलिस को जांच के दौरान जूतों की माला भी गांव से बरामद हो गई है। पुलिस को राख व सियाही का ढेर भी घर के बाहर मिला है, जिससे वृद्धा को मुंह काला किया गया था। वृद्धा के घर में रखी नाग देवता की मूर्ति, पूजाघर के सामान, रसोई के सामान व कपड़ों को छह नवंबर को लोगों की भीड़ ने घर के आंगन में ही जला दिया था। बता दें कि इस मामले में मुख्यमंत्री भी कड़ा संज्ञान ले चुके हैं, जबकि अब हाई कोर्ट ने भी मामले में कडे़ निर्देश जारी किए हैं।

मेडिकल को पुलिस पहरे में मंडी भेजी बुजुर्ग

हमीरपुर – सरकाघाट में मानवीय कू्ररता का शिकार हुई 81 वर्षीय राजदेई को पुलिस प्रोटेक्शन में हमीरपुर से सरकाघाट भेजा गया। हमीरपुर से महिला थाना की टीम पीडि़त महिला को मंडी की सीमा तक पहुंचाकर आई है। वहां पर मंडी से आई कमांडो सिक्योरिटी में महिला को सरकाघाट ले जाया गया। हालांकि पीडि़त महिला का परिवार पहले उसे सोमवार सुबह बिना पुलिस प्रोटेक्शन के सरकाघाट मेडिकल करवाने ले जा रहा था, लेकिन महिला आयोग के हस्तक्षेप के बाद महिला पुलिस थाना की एसएचओ सहित करीब तीन सदस्यों ने वृद्धा को मंडी की सीमा तक पहुंचाया। वहीं, डीएसपी सरकाघाट चंद्रपाल सिंह रविवार देर रात पुलिस दल के साथ परिजनों से मिलने हमीरपुर पहुंचे थे। देर रात तक परिजनों से बातचीत के बाद पीडि़त का मेडिकल सरकाघाट में करवाए जाने की बात हुई थी।

एक और शिकायत दर्ज

मामले में समाहल गांव के ही एक ग्रामीण जयगोपाल ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है। अब तक इस मामले में पुलिस पीडि़ता की बेटी तृप्ता की शिकायत पर ही जांच कर रही थी। ऐसे में आरोपी ग्रामीणों की दिक्कतें और बढ़ सकती हैं।

You might also like