मंडी में नशे के खिलाफ छिड़ेगी जंग

15 नवंबर से 15 दिसंबर तक चलाया जाएगा विशेष अभियान, जागरूक करेंगे

 मंडी –उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार के दिशा-निर्देश अनुसार विशेष अभियान पूरे राज्य के साथ-साथ  मंडी  जिला में भी  15 नवंबर से 15 दिसंबर तक चलाया जाएगा, जिसका मुख्य उद्देश्य जन-जन को नशाखोरी के विरुद्ध जागरूक बनाकर इस सामाजिक कुरीति का उन्मूलन सुनिश्चित करना है और इस बाबत कालेज व स्कूली विद्यार्थियों को शिक्षित करने हेतु विशेष ध्यान दिया जाएगा। उपायुक्त ने कहा कि इस महत्त्वपूर्ण अभियान की सफलता विभिन्न विभागों, स्वयंसेवी संस्थाओं, युवक व महिला मंडलों, पंचायतों के आपसी समन्वय पर निर्भर करता है। उन्होंने कहा कि इस अभियान के माध्यम से जहां अभिभावकों, विद्यार्थियों एवं समाज के विभिन्न वर्गों को नशों के दुष्प्रभावों के बारे में जागरूक किया जाएगा, वहीं युवाओं को बताया जाएगा कि नशा किस प्रकार उन्हें मानसिक व शारीरिक रूप से खोखला कर रहा है। इससे देश व प्रदेश का विकास भी बाधित हो रहा है। उन्होंने कहा कि नशाखोरी को समाप्त करने के लिए सभी को एकजुट प्रयास करने होंगे और व्यक्तिगत उत्तरदायित्व समझना होगा। उपायुक्त महोदय ने बताया कि अभियान के तहत जागरूक करने के लिए नुक्कड़ नाटक, गीत-संगीत आदि के कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे और ग्राम सभा में भी इस नशा विरोधी अभियान पर चर्चा की जाएगी व प्रस्ताव पारित किया जाएगा। उन्होंने सभी  विभागों  से  नोडल अधिकारी नियुक्त करने को कहा और जिला के सभी विभागों के अधिकारियों से अभियान को सफल बनाने हेतु सार्थक प्रयास करने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि सभी उपमंडलों में संबंधित एसडीएम इन गतिविधियों की निगरानी करेंगे और प्रतिदिन रिपोर्ट जिला मुख्यालय में भेजेंगे, ताकि इसे प्रदेश सरकार को भेजा जा सके। जिला स्तर पर एडीसी नोडल अधिकारी होंगे। उन्होंने कहा कि पुलिस, शिक्षा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, ग्रामीण विकास, आयुर्वेद, बाल विकास और खेल विभागों की मुख्य भूमिका होगी। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष  गर्ग, एएसपी पुनीत रघु, एसडीएम सुंदरनगर राहुल चौहान, थुनाग सुरेंद्र मोहन, करसोग सुरेंद्र ठाकुर, गोहर अनिल भारद्वाज, बल्ह डा.  आशीष शर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी और विभिन्न  समाजसेवी संस्थाओं के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

You might also like