लवी मेला…बोली पर बखेड़ा

दूसरे दिन भी व्यापारियों और प्रशासन के बीच स्टॉल आबंटन को लेकर खूब हुई माथापच्ची

 रामपुर बुशहर –अंतराष्ट्रीय लवी मेले में स्टॉल आबंटन की प्रक्रिया इस बार सिरदर्द बन गई। स्थिति ऐसी रही कि स्टॉल आंबटन के दूसरे दिन भी व्यपारियों और प्रशासन के बीच स्टॉल आबंटन को लेकर खूब माथापच्ची हुई। दोपहर तक स्टॉल आबंटन की प्रक्रिया ही शुरू नहीं हो पाई। जिसके बाद स्टॉल आबंटन को लेकर जैसे ही प्रक्रिया शुरू हुई तो व्यपारियों ने मेला कमेटी द्वारा पिछले कल किए गए स्टॉल आबंटन पर सवाल खड़े कर दिए। व्यपारियों ने काफी देर तक इस पर हंगामा किया। लेकिन प्रशासन ने उन स्टॉलों की बोली लगाने से मना कर दिया। जिसके बाद आगे की प्रक्रिया शुरू की गई। जिस प्रक्रिया को प्रशासन ने स्टॉल आबंटन के अंतिम क्षणों में अपनाया वह स्थानीय व्यपारियों के लिए स्टीक नहीं बैठा। जिसका अंतिम क्षणों तक विरोध चलता रहा। यहां तक कि पुलिस और व्यपारियों की थोड़ी देकर तक खासी नोंक झोंक हुई। पुलिस का पूरा अमला शुक्रवार को मेला ग्राऊंड में ही डटा रहा। फिलहाल मेले के आयोजन में ये कहीं पर भी नहीं लग रहा है कि सबलेंटिग पर रोक लग रही है। जिस तरह से इस बार स्टॉल के आबंटन में प्रशासन और व्यपारी उलझते दिखे उससे ये बात साफ है कि सबलेंटिग पर रोक लगाना इतना आसान नहीं है। मेला कमेटी ने आधार कार्ड को अनिवार्य किया तो लोगों ने बोली लगाने के लिए दर्जनों आधार कार्ड रख दिए। ऐसे में अब मेले के दौरान ये कौन चेक करेगा कि जिस व्यक्ति को आधार कार्ड के तहत स्टॉल दी गई है वहीं उस दुकान को चला रहा है। जानकारी के मुताबिक अभी तक लवी मेले में स्टॉल के असल व्यपारी पहंुचे ही नहीं है। ऐसे में स्टॉल आबंटन का ड्रामा अभी जारी रहेगा।

मेला शुरू होने से पहले ही लगने लग लंबा जाम

पुलिस मेला मैदान में स्टॉल आबंटन में व्यस्त थी और पाटबंगला में जाम ने लोगों के पसीने छुड़वा दिए। मेला मैदान से लेकर मुख्य एनएच पर गाडि़यां काफी समय तक फंसी रही। मेले में स्टॉल के लगने का दौर शुरू हो गया है लेकिन अभी तक पुलिस ने ट्रैफिक प्लान लागू नहीं किया है। ये ही कारण है कि जिन प्वाइंट पर स्थिति तंग है वहां पर वाहनों की लंबी कतारें लग रही है।

You might also like