लुटेरों ने खाकी के भेष में लूटा मंदिर

छोटा खुड्डा में माता बाला सुदंरी मंदिर को चोरों ने बनाया निशाना, सेवादारों को भी बनाया बंधक

अंबाला – छावनी के छोटा खुड्डा में माता बाला सुदंरी मंदिर में साध्वी ऊषा माता व उनके सेवकों को बंधक बनाकर लूटेरों ने नकदी व लाखों के रुपए के जेवर चुरा लिए। सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई। साध्वी ऊषा माता ने पुलिस को बताया कि चोरों ने खाकी रंग के कपड़े पहने हुए थे और अपना मुंह ढका हुआ था। उन्होंने यहां आते ही पूछा कि यहां पर सीसीटीवी कैमरे तो नहीं लगे, इसके बाद उन्होंने कहा कि हमें सूचना मिली है कि यहां अफीम गांजे की तस्करी होती है, इसलिए हम यहां जांच के लिए आए हैं। लेकिन इसी दौरान दो युवकों ने उनके कमरे की तलाशी लेनी शुरू कर दी और दो युवक दूसरे कमरे की ओर जाने लगे। वह साध्वी ऊषा को भी अपने साथ ले गए। चोरों ने उन्हें एक अन्य कमरे का ताला तोड़ते हुए वहां पर बंद कर दिया। लेकिन पास के दूसरे कमरे में सो रहे साध्वी ऊषा की बहन कमल व उसका जीजा हरदीप उठ गए और उन्होंने अपने एक परीचित व्यक्ति को फोन किया और उसे बताया कि उनके घर में चोर घुस गए हैं। इस दौरान जब लोग मंदिर में पहुंचे, तो चोर वहां से भाग निकले। साध्वी  ने पुलिस को बताया कि युवक हाथों में गडांसी व डंडे लिए हुए थे। वह उनके वहां रखे लगभग 1.50 लाख रुपए नकदी, माता के सोने के झृमके, 25 चांदी के सिक्के, चांदी की मूर्ति, दो सोने के सैट, चांदी की तगड़ी, कड़े व अन्य सामान ले गए। उन्होंने बताया कि चोरों दीवार फांदकर भाग गए। जबकि इस दौरान कमरे में बंद साध्वी ऊषा, रजनी मेहता, दिनेश, राजेश, पायल, बेबी, कमल, हरजीत व दो बच्चों को उनके सेवकों ने आकर कमरे से बाहर निकाला। उन्होंने यह भी बताया कि लुटेरों ने मंदिर का गेट तोड़ने की भी कोशिश की व पहला गेट तोड़ने में कामयाब हो गए। लेकिन दूसरा गेट उनसे नहीं टूटा। उन्होंने तुरंत इस मामले की पूरी जानकारी पुलिस को दी। कुछ ही देर बाद थाना महेश नगर प्रभारी सतीश कुमार, सब इंस्पेक्टर शीशपाल, तथा सीन ऑफ  क्राइम टीम मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई।

You might also like