सामाजिक-आर्थिक सुरक्षा को नशे को कहे ना

बनीखेत में वाहन पासिंग एवं ड्राइविंग टेस्ट में क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ओंकार सिंह जागरूक किए वाहन चालक

बनीखेत-नशा सामाजिक एवं आर्थिक रूप से नशेड़ी व्यक्ति को तो समाप्त करता ही है साथ ही उसके परिजनों को भी इस कारण अत्यंत तनावग्रस्त परिस्थितियों से गुजरना पड़ता है। यह बात क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी चंबा ओंकार सिंह ने बुधवार को बनीखेत में आयोजित वाहन पासिंग एंव ड्राइविंग टेस्ट के लिए आए वाहन चालकों को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि हर तरह का नशा स्वास्थ्य के लिए घातक होता है। नशा जीवन के लिए एक जहर के समान है। आज की युवा पीढ़ी नशे की ओर आकर्षित हो रही है जो कि चिंता का विषय है। युवा पीढ़ी को इस जहर से बचाना होगा, इसके लिए सभी को एकजुट होना होगा। उन्होंने सभी चालकों से आग्रह किया कि वे अपने तथा अपने परिवार की सामाजिक-आर्थिक सुरक्षा के लिए नशे को न कहना सीखें। इस मौके पर एसडीएम डलहौजी डा. मुरारी लाल ने वाहन चालकों को यातायात नियमों के बारे में जागरूक किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान दौर में लोग अपने कामों में इतने व्यस्त हो गए हैं कि नियमों को लेकर लापरवाह हो जाते हैं। जिससे उन्हें सड़क हादसों का शिकार होना पड़ता है। उन्होंने कहा कि जब तक सड़क दुर्घटना के कारणों को लेकर वाहन चालक जागरूक नहीं होंगे, तब तक दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाना संभव नहीं है। वैसे तो परिवहन एवं पुलिस विभाग चालान कर उल्लंघनकर्ताओं को सबक तो सिखाता है, लेकिन जब तक वाहन चालक स्वयं व अपने परिवार की सुरक्षा को लेकर गंभीर नहीं हैं तब तक सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाना मुश्किल है। इस अवसर पर मोटर वाहन निरीक्षक चंबा जसबीर व अनुराग धीमान सहित भारी संख्या में वाहन चालक मौजूद रहे।

You might also like