सिंथेटिक ट्रैक में बढ़ेंगी सुविधाएं

उपायुक्त ने होस्टल के लिए जमीन तलाश करने के दिए निर्देश

हमीरपुर – जिला हमीरपुर में खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए आधारभूत अधोसंरचना को और सुदृढ़ किया जाएगा।  गुरुवार को डीसी हमीरपुर हरिकेश मीणा ने अणु स्थित सिंथेटिक ट्रैक के रखरखाव व प्रबंधन के लिए जिला युवा सेवाएं एवं खेल विभाग स्थानीय प्रशासन व अन्य संबंधित एजेंसियों को कुछ खास निर्देश दिए और कहा कि सब मिलकर प्रयास करें और इसके बेहतर प्रबंधन के लिए एक सप्ताह में अपनी कार्य योजना प्रस्तुत करें। उपायुक्त हरिकेश मीणा ने गुरुवार को जिला के सभी खेल मैदानों की फीडबैक के अलावा उनके सही रखरखाव के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि सिंथेटिक ट्रैक पर काफी संख्या में युवा अभ्यास व प्रशिक्षण के लिए आते हैं और इन्हें सभी प्रकार की सुविधाएं यहां उपलब्ध हो सकें और वे विश्व स्तरीय प्रतिस्पर्धाओं की तैयारी यहीं कर सकें, इसके लिए विस्तृत योजना तैयार की जा रही है। ट्रैक के समीप जिम स्थापित करने तथा अतिरिक्त उपकरण इत्यादि उपलब्ध करवाने के लिए बजट का समुचित प्रावधान किया जा रहा है। ट्रैक के बेहतर संचालन के लिए संसाधनों में वृद्धि के भी प्रयास किए जा रहे हैं ताकि साफ-सफाई, अटेंडेंट व ग्राउंड मैन की समुचित व्यवस्था की जा सके। उन्होंने युवा सेवाएं एवं खेल विभाग को निर्देश दिए कि स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर सिंथेटिक ट्रैक के समीप होस्टल निर्माण के लिए भूमि की तलाश करें। उन्होंने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला (छात्र) के खेल मैदान में साफ-सफाई व रखरखाव के लिए संबंधित अधिकारियों को उचित कदम उठाने के भी निर्देश दिए। यहां पर वालीबाल व कबड्डी सहित अन्य खेलों के अभ्यास के लिए सुबह व सायंकाल को काफी संख्या में युवा पहुंचते हैं। डीसी ने कहा कि राजकीय डिग्री कालेज अणु में लगभग सात करोड़ रुपए की लागत से इंडोर स्टेडियम का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है और इसे निर्धारित समय अवधि में पूर्ण करने के लिए सभी संबंधित विभागों को निर्देश दे दिए गए हैं। बैठक में उपमंडलाधिकारी भोरंज अमित शर्मा, नादौन किरन भड़ाना, सुजानपुर शिल्पी बेक्टा, सदर हमीरपुर डा. चिरंजी लाल, सहायक आयुक्त राज किशन सहित सभी खंड विकास अधिकारी, जिला युवा सेवाएं एवं खेल विभाग व अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

बिझड़ी ग्राउंड के रखरखाव को जल्द उठाएं कदम

बैठक में बड़सर के बिझड़ी में स्थित खेल मैदान के उचित रखरखाव के लिए त्वरित कदम उठाने के निर्देश स्थानीय प्रशासन व विभाग को दिए। उन्होंने जिला युवा सेवाएं एवं खेल अधिकारी को स्थानीय उपमंडलाधिकारी के साथ स्वयं इसका निरीक्षण करने और इसकी रिपोर्ट एक सप्ताह में प्रस्तुत करने को कहा। उन्होंने सभी उपमंडलाधिकारी व खंड विकास अधिकारियों से आग्रह किया कि वे अर्द्धशहरी व मुख्य स्थलों पर खेल ढांचे के विकास की संभावनाएं तलाशें और इसके प्राक्कलन इत्याद प्राथमिकता के आधार पर प्रस्तुत करें। जिला के अन्य खेल मैदानों के कामों की समीक्षा की उपायुक्त ने बजूरी, नाल्टी, नेरी, कांगू, महालग, टौणीदेवी, भरेड़ी, लुद्दर महादेव, बडैहर व बाहन्वीं सहित अन्य मुख्य स्थलों पर निर्माणाधीन खेल मैदानों की प्रगति की समीक्षा भी की। उन्होंने उपमंडलाधिकारी नादौन को अमतर खेल मैदान के विस्तारीकरण के लिए भूमि की उपलब्धता का पता लगाने और नादौन में लघु सचिवालय के समीप स्थित मैदान को विकसित करने के लिए कार्य योजना प्रस्तुत करने को कहा। सुजानपुर के चौगान में जारी कार्यों में तेजी लाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।

You might also like