हिंगराज चिराग को हिमाचलश्री पुरस्कार

 पर्यावरण शिक्षण पर बेहतर काम करने को  सदर विधायक ने थपथपाई पीठ

सुरंगानी –हिमोत्कर्ष संस्था ने पर्यावरण शिक्षण को लेकर बेहतर काम करने को लेकर हिंगराज चिराग को हिमाचल श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया। गत रोज जिला मुख्यालय में आयोजित हिमोत्कर्ष के वार्षिक समारोह के दौरान सदर विधायक पवन नैयर ने हिंगराज चिराग को यह पुरस्कार प्रदान किया। हिंगराज चिराग मूल रूप से सलूणी तहसील डिभरू गांव के रहने वाले हैं। हिंगराज चिराग वर्तमान में राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कल्हेल में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। शिक्षण विशेषकर पर्यावरण शिक्षण में बेहतर कार्य के लिए हिंगराज चिराग को पहले भी कई संस्थाओं द्धारा सम्मानित किया जा चुका है। हिंगराज चिराग को शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए हिमाचल सरकार द्धारा वर्ष 2011 में राज्य शिक्षक पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है। हिंगराज चिराग शिक्षक होने के साथ बेहतर साहित्यकार भी हैं। साहित्य के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए हिंगराज चिराग को राष्ट्रीय कवि मैथली शरण गुव्त सम्मान और राष्ट्रभाषा आचार्य, ब्रिज गौरव व शब्द सूर्य आदि सम्मानों से अंलकृत किया जा चुका है। बतातें चलें कि हिंगराज चिाग अपनी मासिक सैलरी का दो फीसदी गरीब बच्चों की पढाई पर खर्च करते हैं। इसके अलावा शिक्षा से विमुख 25 बच्चों को स्कूल पहंुचाकर शिक्षा की मुख्यधारा से जोड चुके हैं। इसके अलावा पर्यावरण संरक्षण में भी हिंगराज चिराग अपनी अहम भूमिका निभाते हुए लोगों को पौधारोपण के प्रति जागरूक कर रहे हैं।

You might also like