28 नहीं, 14 प्रोजेक्ट्स पर शुरू होंगे काम

 28 फवरी 2020 तक करने होंगे टेंडर, नगर निगम प्रशासन की बैठक में हुआ फैसला

शिमला –नगर निगम शिमला की मंगलवार को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत आने वाले 14 विभागों की बैठक बुलाई गई। इस बैठक में इन विभागों को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत कार्य करने के लिए दिशा-निर्देश दिए गए। बैठक के दौरान आयुक्त पंकज राय ने बताया कि स्मार्ट सिटी में 28 प्रोजेक्टों के लिए टेंडर प्रक्रिया 28 फरवरी से पहले पूरी करनी होगी। बैठक के दौरान निगम प्रशासन ने सभी विभागों को आदेश जारी किए हैं कि वे स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के लिए जल्द प्रक्रिया शुरू करें। वहीं आयुक्त ने बताया कि नगर निगम द्वारा हर संभव प्रयास कि ए जाएंगे कि स्मार्ट सिटी के तहत अगले छह महीने में काम  दिखें। साथ ही उन्होंने बताया कि स्मार्ट सिटी के निर्माण कार्य में जिन-जिन विभागों में कोई कमियां व दिक्कतें होंगी वहां फील्ड पर स्वयं जाकर निपटारा किया जाएगा। ऐसे में अब स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट अब अगले साल से ही ट्रैक पर उतरेगा। यानी अगले साल 31 मार्च से पहले प्रोजेक्ट पर काम शुरू होगा। प्राप्त जानकारी के मुताबिक 28 फरवरी तक टेंडर आमंत्रित किए गए हैं। उसके बाद मार्च प्रथम सप्ताह में टेंडर खुलेंगे और काम शुरू हो जाएगा। गौरतलब है कि बीते गुरुवार को राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने स्मार्ट सिटी प्रोजेेक्ट का काम तय समय पर शुरू करने के भी निर्देश दे दिए हैं। प्राप्त जानकारी के मुताबिक शिमला स्मार्ट सिटी मिशन के तहत 23 विभिन्न विभागों को इस परियोजना के कार्यान्वयन में शामिल किया गया है। लगभग 339.35 करोड़ रुपए की लागत के 28 कार्यान्वित योग्य परियोजनाओं को प्राथमिकता दी जा रही है। सार्वजनिक स्थलों में स्थापित किए जाने वाले ई-शौचालय, प्रस्तावित संजौली-आईजीएमसी अस्पताल तक छत वाले फुटपाथ, इको पर्यटन विकास पार्क और सड़क को चौड़ा करने के साथ पैदल मार्गों का विकास, नालों का तटीकरण, कचरा कम्पेक्टरों की खरीद और आधुनिक एंबुलेंस तथा शव वाहन की खरीद पर काम होना है। रिज पर स्थित वर्षा-शालिका पर सौर पैनल, पैदल यात्रियों की सुविधा के लिए फुटओवर पुल निर्माण, लिफ्ट निर्माण और एसक्लेटर, वेंडिंग क्षेत्र का प्रावधान, स्मार्ट बस स्टॉप के विकास, पीपीपी मोड के अंतर्गत रोप-वे और नई स्मार्ट पार्किंग का विकास होना है। ऐसे में अब 28 फरवरी 2020 से पहले संबंधित विभाग टेंडर प्रक्रिया भी पूरी करेंगे। उसके बाद सुचारू रूप से स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट का काम शुरू होगा। प्राप्त जानकारी के मुताबिक शिमला स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत पहले चरण में 339.35 करोड़ की राशि से काम शुरू होना है। पहले चरण में 28 प्रोजेक्टों में से 14 प्रोजेक्टों पर काम शुरू होगा। उल्लेखनीय है कि पिछले महीने नगर निगम की मासिक बैठक में स्मार्ट सिटी के 28 बिंदुओं पर प्रेजेंटेशन भी दी जा चुकी है।

You might also like