असम में गोलियां लगने से पांवटा का जवान शहीद

 पांवटा साहिब –पांवटा साहिब उपमंडल की कुंडियों पंचायत के टोका नगला गांव के सीआरपीएफ जवान अजमल खान (42) असम में ड्यूटी के दौरान गोलियां लगने से शहीद हो गए हैं।  शहीद की पत्नी फिरदौस को गुरुवार तड़के इस बारे में सूचना मिली। शहीद अजमल के भाई शमशाद अली काश्मी ने बताया कि बुधवार रात अजमल ने अपने बेटे से बात भी की थी। करीब एक महीने पहले ही वह छुट्टी काटकर गए थे। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि उन्हें गोली कैसे लगी, हालांकि कमांडेंट ने बताया है कि जवान के पास कोई सुसाइड नोट आदि नहीं मिला है, जिससे अजमल को शहीद का दर्जा दिया जाएगा। जवान को चार गोलियां लगी हैं, जिसकी जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि शहीद जवान अजमल खान के पार्थिव शरीर को गुवाहाटी से फ्लाइट से दिल्ली लाया जाएगा। जहां से शुक्रवार तड़के शव पांवटा साहिब पहुंचाया जाएगा। शहीद के भाई ने कहा कि परिवार अजमल की मौत के कारण की जांच की मांग करेगा। जवान की शहादत पर पूरा पांवटा क्षेत्र गमगीन है। दिवंगत अजमल खान इस समय असम के डोबरी में ड्यूटी पर तैनात थे। वह अपने पीछे पत्नी के अलावा एक बेटा व एक बेटी छोड़ गए हैं। बताया जा रहा है कि घटना के समय अजमल संतरी की ड्यूटी पर तैनात थे। एसडीएम पांवटा एलआर वर्मा ने बताया कि उन्हें मामले की सूचना मिल गई है।

You might also like