उच्च न्यायालय के आदेश.. नाहन में चला पीला पंजा

नाहन – आखिरकार हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय के आदेश के बाद नाहन शहर में अवैध निर्माण व अतिक्रमण का तीसरा चरण शुरू हो गया। पहले दिन नाहन बाजार में पांच अवैध मकान तोड़े गए। कड़ी पुलिस सुरक्षा के बीच जेसीबी का पीला पंजा व नगर परिषद के मजदूरों का हथौड़ा अमरपुर मोहल्ले में चला। भारी पुलिस बल व नगर परिषद का दलबल मौके पर पहुंचा। गुरुवार को नगर परिषद के अधिकारियों के साथ जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन दलबल के साथ मौजूद रहा। करीब 170 लोगों की टास्क फोर्स के साथ गुरुवार को सबसे पहला अवैध निर्माण अमरपुर मोहल्ले में गिराया गया। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल के अलावा लोक निर्माण विभाग, विद्युत बोर्ड, रेवेन्यु डिपार्टमेंट की ओर से तहसीलदार नारायण चौहान, डीएसपी परम देव, प्रोबेशन डीएसपी के अलावा एसएचओ सदर थाना नाहन मानवेंद्र ठाकुर, नगरपालिका के वरिष्ठ इंजीनियर परवेज इकबाल आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे। नगर परिषद ने नरम रवैया अपनाते हुए करीब एक महीने पहले ही लोगों से अपील की थी कि वह अपने अवैध कब्जे खुद हटा दें और जिनके नक्शे पास नहीं हैं वह नक्शे पास करवा लें। नाहन एमसी के द्वारा 26 अवैध कब्जों को तोड़ा जाना है। बड़ी बात तो यह है कि अवैध कब्जे गिराए जाने के दौरान जिला प्रशासन की ओर से उपायुक्त सिरमौर डा. आरके परूथी, एसपी सिरमौर अजय कृष्ण शर्मा बकायदा वीडियो कान्फ्रेंसिंग से बराबर तमाम घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए रहे। प्रशासन व पुलिस प्रशासन की ओर से पुख्ता इंतजाम भी रखे गए हैं। उधार प्रशासन की ओर से मौके पर उपस्थित रहे तहसीलदार नाहन नारायण चौहान ने खबर की पुष्टि करते हुए बताया कि नगर परिषद को नौ जनवरी तक माननीय उच्च न्यायालय में रिपोर्ट सबमिट करनी है। पांच जनवरी तक सभी अवैध कब्जों को हटा दिया जाएगा। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि जिन लोगों के अवैध कब्जे या अवैध निर्माण किए हुए हैं वह खुद अपने अवैध निर्माणों को तोड़ लें।

You might also like