गीत-संगीत से नशे पर किया प्रहार

कुल्लू – नशा मुक्त हिमाचल अभियान के तहत स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग कुल्लू द्वारा भी अपनी विभिन्न गतिविधियों के तहत जिला के विभिन्न स्वास्थ्य खंडों में नशे के विरुद्ध मुहिम को तेज करते हुए एक जनजागरूकता अभियान की शुरुआत की। हिमाचल प्रदेश सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा अनुमोदित मन्नत कला मंच कुल्लू द्वारा इन स्वास्थ्य खंडों में गीत-संगीत  व नाटक के माध्यम से जनता को नशे की बुराइयों, इसके दुष्प्रभाव व इससे बचाव  के बारे विस्तृत जानकारी दी। मन्नत कला मंच द्वारा नगर ब्लॉक के पतलीकूहल, ढालपुर ग्राउंड, जरी ब्लॉक के भुंतर में कार्यक्रम आयोजित किए, जिनमें मंच के कलाकार मानचंद, खूब राम, गोपाल,  प्रिया, चंपा आदि द्वारा समूहगीत गांव-गांव, शहर-शहर में यह अभियान चलाना है, छोड़ नशे की बुरी आदतें, सब को यह समझाना है। कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग की ओर से आशा कार्यकर्ताओं, महिला मंडल,  नीलकंठ युवक मंडल व व्यापार मंडल के सदस्य भी शामिल रहे।  मुख्य चिकित्सा अधिकारी कुल्लू डा. सुशील चंद्र ने  बताया कि नशा आज  एक गंभीर सामाजिक बुराई का रूप धारण कर चुकी है। स्वास्थ्य विभाग कुल्लू द्वारा कमरा नंबर 108 में नशा मुक्ति केंद्र स्थापित किया गया है तथा युवा परामर्श केंद्र भी चलाया जा रहा है जहां पर डा.  सत्यव्रत वैद्य नशे के आदी युवा वर्ग व अन्य लोगों का सफलतापूर्वक इलाज कर रहे हैं, उन्होंने अपील की कि लोग नशे के आदी लोगों को यहां लाएं, ताकि उनका इलाज कर उन्हें समाज की मुख्य धारा के साथ जोजा जा सके।

You might also like