धमाकेदार प्रदर्शन करवाएगा मालामाल

विंडीज से सीरीज के बाद आईपीएल नीलामी, वर्ल्डकप के लिए दावा मजबूत करने पर भी नजर

हैदराबाद –भारत और वेस्टइंडीज के बीच तीन मैचों की टी-20 सीरीज ऐसे समय हो रही है, जब टी-20 विश्व कप के लिए दावेदारी दांव पर है और आईपीएल की 19 दिसंबर को कोलकाता में होने वाली नीलामी पर सबकी नजर है।  ३इस सीरीज में शानदार प्रदर्शन दोनों टीमों के खिलाडि़यों का अगले साल होने वाले विश्वकप के लिए दावा मजबूत करेगा और साथ ही उन्हें आईपीएल नीलामी में अच्छी कीमत भी दिला सकेगा। यह दिलचस्प है कि टी-20 की मौजूदा विश्व चैंपियन टीम विंडीज इस सीरीज में विश्व में 10वीं रैंकिंग के साथ उतर रही है और इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि विश्व चैंपियन बनाने के बाद कैरेबियाई क्रिकेट में कितनी गिरावट आई है। वेस्ट इंडीज ने भारत के खिलाफ खेलने से पहले अफगानिस्तान से टी-20 सीरीज 1-2 से गंवाई थी, जबकि भारत ने बांग्लादेश को 2-1 से हराया था। भारतीय टीम ने बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 सीरीज में नियमित कप्तान विराट कोहली को विश्राम दिया था और इस सीरीज में विराट के लौटने से भारतीय टीम को बल्लेबाजी में मजबूती मिलेगी। विराट घरेलू टी-20 मैचों में बहुत कम खेलते नजर आते हैं। पिछले 12 महीनों में ऐसी सीरीज में उन्हें आमतौर पर विश्राम ही दिया जाता रहा है। विंडीज ने 2018 में जब भारत का दौरा किया था तब उन्हें विश्राम दिया गया था, लेकिन विश्व कप में एक वर्ष से भी कम समय रहते अब हर मैच का महत्त्व बढ़ गया है। यह युवा भारतीय टीम है और कई युवाओं के पास टीम में अपनी जगह पक्की करने का मौका रहेगा, लेकिन विकेटकीपर ऋषभ पंत पर सभी निगाहें रहेंगी क्योंकि इस सीरीज में फ्लॉप होने से अब उनकी टीम से छुट्टी हो सकती है। मनीष पांडे, लोकेश राहुल, वाशिंगटन सुंदर और संजू सैमसन घरेलू टी-20 टूर्नामेंट सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन के बाद सीरीज में उतर रहे हैं। सैमसन को ओपनर शिखर धवन के चोटिल होने के बाद टीम में लिया गया है। जसप्रीत बुमराह, शिखर और हार्दिक पांड्या जैसे धुरंधर खिलाडि़यों की अनुपस्थिति ने युवा खिलाडि़यों को अपना दावा पक्का करने का मौका दिया है।

You might also like