नागरिकता संशोधन विधेयक: पाक पीएम को भारत की दो टूक- अपने यहां अल्पसंख्यकों पर दें ध्यान

नई दिल्ली – पाक द्वारा नागरिक संशोधन बिल को लेकर की गई टिप्पणी पर विदेश मंत्रालय ने बड़ी प्रतिक्रिया दी है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि पाक पीएम के हर बयान पर हमें प्रतिक्रिया देने की कोई जरूरत नहीं है। रवीश कुमार ने कहा कि पाक पीएम इमरान खान द्वारा दिए गए ज्यादातर बयान अनुचित होते हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बांग्लादेश के विदेश मंत्री ऐके अब्दुल मोमेन द्वारा अपना भारत दौरा रद्द करने को लेकर भी प्रतिक्रिया दी है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, ‘पाक पीएम इमरान खान को बेतुके बयान देने की जगह अपने देश में अल्पसंख्यकों की स्थिति पर ध्यान देना चाहिए। इसके अलावा भारत के आंतरिक मामलों पर बयानबाजी करने से भी बचना चाहिए।’ उन्होंने बांग्लादेश के विदेश मंत्री द्वारा भारत दौरा रद्द करने पर भी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि उन्होंने अपना भारत दौरा रद्द करने के पीछे के कारणों पर सफाई दी है। उन्होंने कहा, ‘बांग्लादेश से हमारे संबंध मजबूत हैं। जैसा कि दोनों देशों के नेताओं ने कहा था कि यह दोनों देशों के संबंधों का स्वर्णिम काल है।’ बांग्लदेश के विदेश मंत्री के बयान पर रवीश कुमार ने कहा, ‘यहां कुछ असमंजस की स्थिति है। हम बता चुके हैं वर्तमान सरकार के कार्यकाल में धार्मिक उत्पीड़न नहीं हो रहा है। जो लोग भारत में रिफ्युजी की तरह रह रहे हैं, उन्होंने धार्मिक आधार पर उत्पीड़न सहा है। यह सब सैन्य शासन और बांग्लादेश की पूर्व के सरकारों के कार्यकाल में हुआ। हम यह बात जानते हैं कि बांग्लादेश की वर्तमान सरकार ने अल्पसंख्यकों की चिंताओं पर खास ध्यान दिया है।’

You might also like