परिजनों को सौंपा पांच महीने से लापता युवक

खैरा पुलिस ने पेश की मानवता की मिसाल; उत्तर प्रदेश का रहने वाला था अभागा, बेटे को देख छलके आंसू

चंबा – पुलिस ने करीब पांच माह से लापता उत्तर प्रदेश के एक व्यक्ति को परिजनों से मिलाकर मानवता की मिसाल पेश की है। पुलिस ने कागजी औपचारिकताएं पूर्ण कर व्यक्ति को उसके पिता को सौंप दिया है। बेटे को सही सलामत लौटने को लेकर पिता ने पुलिस का आभार प्रकट किया है। रविवार को बेटे को लेकर पिता वापस लौट गया है। पुलिस की इस कार्य की सर्वत्र प्रशंसा हो रही है। जानकारी के अनुसार पुलिस को चार दिसंबर को बाहरी प्रदेश के एक व्यक्ति के खैरी क्षेत्र में घूमते पाए जाने की सूचना मिली। सूचना पाते ही खैरी पुलिस थाना की टीम ने मौके पर पहुंचकर पाया कि व्यक्ति की मानसिक हालत ठीक नहीं थी और वह ठंड से कांप रहा था। पुलिस की पूछताछ में उक्त व्यक्ति ने अपनी पहचान इमन्नुलाह पुत्र साहबुलह वासी गांव बटवारिया जिला सिद्धार्थनगर उत्तर प्रदेश बताई। पुलिस ने इमन्नुलाह की हालत को देखते हुए उसके लिए गर्म वस्त्रों व खाने का बंदोबस्त किया। इसी बीच खैरी पुलिस थाना के मुख्य आरक्षी नीरज कुमार ने इमन्नुलाह के गृह थाना के माध्यम से परिजनों से संपर्क साधकर उसकी बात करवाई। परिजनों ने उसकी तस्वीर को पहचानते हुए बताया कि उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है और यह चार- माह से लापता है। शनिवार को इमन्नुलाह के पिता साहबुलह अपने बेटे को लेने खैरी पहुंचे। बेटे को देखकर सही सलामत देखकर उसकी आंखों में आंसू छलक आए। उधर, एसपी  डा. मोनिका भुटुंगरू ने बताया कि  उत्तर प्रदेश के इमन्नुलाह को सुरक्षित पिता को सौंप दिया गया है।

You might also like