भरमौर पर खर्च हो रहे 50 करोड़ रुपए

भरमौर – उपमंडल मुख्यालय स्थित मिनी सचिवालय के सभागार भवन में गुरुवार को परियोजना सलाहकार समिति की बैठक संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता विधायक जियालाल कपूर ने की। उन्होंने कहा कि भरमौर के विकास कार्यों पर इस वित्तीय वर्ष मे जनजातीय उपयोजना के तहत 50 करोड़ 10 लाख की धनराशि व्यय की जा रही है। और विशेष केंद्रीय सहायता योजना के तहत 50 लाख 97 हजार की धनराशि आबंटित की गई है। उन्होंने कहा कि द्वितीय तिमाही में 24 करोड 42 लाख जनजातीय उपयोजना के तहत अब तक खर्च किए गए हैं तथा विशेष केंद्रीय सहायता योजना में 21 लाख की धनराशि व्यय की गई है।  उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि 31 दिसंबर 2019 तक निर्धारित मापदंडों के अनुरूप आबंटित धनराशि विकासात्मक कार्य पर खर्च करना सुनिश्चित बनाएं। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में विकास कार्य करने के लिए कम समय अवधि है लिहाजा अधिकारी व कर्मचारी गण तत्परता से विकास कार्यों को अंजाम दें। उन्होंने विभिन्न विभागों की वित्तीय व भौतिक उपलब्धियों का विभाग बार चर्चा कर विकास कार्य को तेज गति देने के निर्देश दिए। विधायक ने कहा कि भरमौर क्षेत्र में उद्यान व फ्लोरीकल्चर की अपार संभावनाएं हैं। इस मर्तबा भरमौर में विविधता कार्यक्रम के तहत प्लम के 250, खुमानी के 250, कीवी के 500 व अनार के 500 पौधे बागबानों को उपलब्ध करवाए जाएंगे। विधायक ने कृषि क्षेत्र में स्द्रिकलर व टपक सिंचाई योजना आरंभ करने की बात कही। उन्होंने कहा कि भरमौर के 10 युवकों को भेड़ की ऊन उतरवाने का भी प्रशिक्षण दिया जा रहा है इन्हें विशेष प्रशिक्षण के लिए हिसार में भेजा जाएगा। पशु पालन विभाग के अधिकारी ने ने बताया कि इस बार 250 क्विंटल पशुओं की फीड जल्दी उपलब्ध करवाई जा रही है। बैठक में वन मंडलाधिकारी वन्य प्राणी चंबा का कार्यभार वन मंडलाधिकारी भरमौर को सौंपने का निर्णय लिया गया तथा और भरमौर की 31 सहकारी सभाओं का भी निरीक्षण संबंधित विभाग को निर्देश दिए गए सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग को निर्देश देते हुए कपूर ने कहा कि जिन बहाव सिंचाई योजनाओं का कार्य आरंभ नहीं किया गया है। उनकी सूची जल्द प्रस्तुत की जाए  ताकि काम लटकाने वाले ठेकेदारों के खिलाफ  कड़ी कार्रवाई की जा सके। लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता ने बताया कि भरमौर में में पुल व सड़क निर्माण कार्यों को तेज गति द्गदान की जा रही है। चौरासी मंदिर परिसर के नजदीक 40 लाख से निर्मित होने वाली पुस्तकालय भवन के लिए भी भूमि चयनित की जा रही है। बैठक में अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी पीपी सिंह, उपमंडलाधिकारी मनीष सोनी, मुख्य चिकित्साधिकारी चंबा डा. राजेश गुलेरी, जनजातीय सलाहकार परिषद के सदस्य सत्यप्रसाद, पूर्व मंडलाध्यक्ष चमन लाल शर्मा, पीएसी सदस्य अनूप कुमार व राकेश जरयाल, पंचायत समिति अध्यक्ष नीलम ठाकुर, उपाध्यक्ष अरुण कुमार अन्य पीएसी के सदस्यगण तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

You might also like