मरीजों को बिजली के झटकों से मिलेगी राहत

मेडिकल कालेज में वायरिंग बदलने का काम शुरू, लोड बढ़ने से हमेशा होती थी स्पार्किंग

हमीरपुर – डा. राधाकृष्णन मेडिकल कालेज एवं अस्पताल के भवन की बिजली वायरिंग बदलने का काम शुरू हो गया है। वर्षों से पुरानी वायरिंग के सहारे किसी तरह काम चला रहे अस्पताल प्रबंधन को पेश आ रही दिक्कतों से अब निजात मिल जाएगी। रविवार को संबंधित ठेकेदार के कर्मचारी बिजली वायरिंग को बदलने में जुटे रहे। एक साथ करीब आधा दर्जन कर्मचारी बिजली की नई वायरिंग डालने का काम कर रहे थे। नई बिजली वायरिंग डालने के उपरांत बिजली की बेहतर सुविधा मिलेगी। इससे न सिर्फ मरीजों व उनके तीमारदारा,ें बल्कि अस्पताल में काम कर रहे कर्मचारियों को भी राहत मिलेगी। जाहिर है कि मेडिकल कालेज एवं क्षेत्रीय अस्पताल की बिजली वायरिंग को सालों से नहीं बदला गया था। वायरिंग काफी पुरानी हो जाने के कारण बिजली गुल हो जाने का हमेशा डर बना रहता था। अधिक लोड हो जाने पर वायरिंग स्पार्क तक कर जाती थी। इससे हादसे का भी खतरा बना हुआ था। समस्या से निजात पाने के लिए अस्पताल प्रबंधन ने एस्टिमेट तैयार कर बिजली वायरिंग चेंज करने का काम शुरू कर दिया है। बिजली वायरिंग चेंज करने के बाद मेडिकल कालेज एवं अस्पताल के भवन का कायाकल्प शुरू हो जाएगी। वाल पुट्टी सहित रंग-रोगन कर अस्पताल भवन को सुंदर व चकाचक किया जाएगा। बताया दें कि इन दिनों कई वार्डों की हालत ऐसी है कि यहां बैठने का भी मन नहीं करता।इनकी दीवारों में आई सीलन के कारण दीवारें काली पड़ चुकी हैं। भवन का पूरी तरह कायाकल्प करने के लिए 32 लाख रुपए लोक निर्माण विभाग को सौंपे गए हैं। इसमें वायरिंग सहित रंग रोगन का कार्य किया जाएगा। बहुत जल्द अंदर से कई जगहों पर खंडहर बनता जा रहा अस्पताल भवन चकाचक हो जाएगा।

You might also like