रामपुर विद्यालय में गिद्दे पर धमाल

चंडी – जिला सोलन की ग्राम पंचायत बुघार कनेता के अंतर्गत राजकीय उच्च विद्यालय रामपुर में वार्षिकोत्सव बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया गया, जिसमें दून विधानसभा क्षेत्र के विधायक परमजीत सिंह पम्मी मुख्यातिथि के रूप में शामिल हुए। स्कूल पहुंचने पर मुख्यातिथि का मुख्याध्यापक, स्कूल प्रबंधन समिति के सदस्यों और बच्चों ने भव्य स्वागत किया। मुख्यातिथि ने मां सरस्वती की तस्वीर के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया। इसके पश्चात स्कूल प्रबंधन द्वारा आए हुए मुख्यातिथि को शॉल और स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। उनके साथ अन्य विशिष्ट अतिथियों को भी स्मृति चिन्ह देकर सम्मान दिया गया। वंदेमातरम् से शुरू हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम में बच्चों ने स्वागत गीत, सरस्वती वंदना, पंजाबी, हरियाणवी, पर्यावरण पर आधारित लघु नाटिका व हिमाचली नृत्य प्रस्तुत करके दर्शकों की खूब तालियां बटोरीं। पहाड़ी गिद्दे पर तो पंडाल में बैठे दर्शक अपनी जगह पर झूमने पर मजबूर हो गए। कार्यक्रम के मध्य में स्कूल के मुख्याध्यापक गुरदीप सिंह सैणी ने आए हुए मुख्यातिथि व अन्य अतिथियों का स्वागत करते हुए स्कूल का वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए बताया कि इस स्कूल में बच्चों की पढ़ाई के साथ-साथ अन्य गतिविधियां भी करवाई जाती हैं, ताकि बच्चों का सर्वांगीण विकास हो सके। उन्होंने अपने स्कूल के शिक्षकों की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनका स्टाफ हर कदम पर उनके साथ सहयोग करता है, जिसकी वजह से उनके स्कूल के बच्चे हर क्षेत्र में रामपुर स्कूल का नाम रोशन करते रहे हैं। उन्होंने अपने प्रतिवेदन के साथ-साथ स्कूल में कमरों के अभाव की समस्या से भी मुख्यातिथि को अवगत करवाया। मुख्यातिथि ने अपने संबोधन में स्कूल के वार्षिकोत्सव में बच्चों द्वारा प्रस्तुत किए गए संदेशात्मक कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुए कहा कि बच्चे देश का भविष्य हैं। इनको सही दिशा में ले जाना हम सभी का कर्तव्य है। शिक्षकों और अभिभावकों की दूरदर्शिता से ही बच्चों में सकारात्मक सोच का सृजन किया जा सकता है, जिसके लिए सभी को अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी आवश्यक है। फिर चाहे वो संपूर्ण स्वच्छता की सोच हो या पोलिथीन प्रयोग न करने का संकल्प हो या फिर जल संरक्षण का प्रण ये तभी संभव होगा जब हम सब इसको क्रियान्वित रूप से अपनाएंगे। उन्होंने स्कूल के कमरों के लिए एक लाख रुपए देने की घोषणा की साथ ही अपनी ऐच्छिक निधि से बच्चों के कार्यक्रम के लिए 4100 रुपए की राशि भी प्रदान की।

इन मेधावियों को किया सम्मानित…

स्कूल में शिक्षा तथा अन्य गतिविधियों में अव्वल रहे बच्चों को पुरुस्कृत भी किया गया, जिसमें छठी कक्षा में उर्वशी ने पहला, आरती ने दूसरा, सृष्टि ने तीसरा, सातवीं कक्षा में यामिनी ने पहला, ज्योति  ने दूसरा , पलक ने तीसरा, आठवीं कक्षा में मेघा ने पहला, मल्लिका ने दूसरा, मानवी ने तीसरा, नौवीं कक्षा में खुशी ने पहला, पलक ने दूसरा, रंजना ने तीसरा, दसवीं में हिमांशी ने पहला, अभय ने दूसरा स्थान, आरती ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। इसके अतिरिक्त अन्य गतिविधियों में अव्वल रहे बच्चों को भी पुरस्कृत किया गया। बेस्ट हाउस की ट्रॉफी गांधी हाउस के नाम रही।

You might also like