कटमनी नहीं मिलने की वजह से केंद्र की योजनाओं को लागू नहीं कर रही हैं ममता बनर्जी: प्रधानमंत्री मोदी

file Photo

कोलकाता – पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी के गढ़ कोलकाता पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डॉक्‍टर श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी और बाबा साहब भीमराव आंबेडकर के बहाने राज्‍य सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि इन दोनों नेताओं ने पश्चिम बंगाल में औद्योगीकरण का सपना देखा था लेकिन यहां की सरकारों ने इससे मुंह मोड़ लिया। प्रधानमंत्री मोदी ने कोलकाता पोर्ट का नाम डॉक्‍टर श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी पोर्ट करने का ऐलान किया। उन्‍होंने ममता बनर्जी का नाम लिए बिना कहा कि कटमनी, सिंडिकेट नहीं होने की वजह से केंद्र की योजनाओं को राज्‍य की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी लागू नहीं कर रही हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जैसे ही पश्चिम बंगाल राज्य सरकार आयुष्मान भारत योजना, पीएम किसान सम्मान निधि के लिए स्वीकृति देगी, यहां के लोगों को इन योजनाओं का भी लाभ मिलने लगेगा। उन्‍होंने कहा, ‘मैं नहीं जानता हूं कि आयुष्‍मान भारत और पीएम किसान निधि योजनाओं को राज्‍य सरकार स्‍वीकृति दे देगी या नहीं। लेकिन अगर दे देगी तो यहां के लोगों को इन योजनाओं का लाभ मिलने लगेगा। मैं आपको बता दूं कि आयुष्‍मान भारत योजना से 75 लाख मरीजों को गंभीर बीमारी की स्थिति में मुफ्त इलाज मिल चुका है। कोई बिचौलिया नहीं, कोई कट नहीं, सिंडिकेट का चलता नहीं तो इन योजनाओं को कौन लागू करेगा?

‘बंगाल के नीति निर्धारकों को सद्बुद्धि दे ईश्वर’
उन्‍होंने कहा, ‘मेरे दिल में हमेशा दर्द रहेगा और मैं चाहूंगा, ईश्वर से प्रार्थना करूंगा की बंगाल के नीति निर्धारकों को सद्बुद्धि दें। गरीबों की मदद के लिए आयुष्मान योजना और किसानों की जिंदगी में पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ मेरे बंगाल के गरीबों और किसानों को मिले।’ बता दें कि कटमनी को लेकर पिछले दिनों टीएमसी बीजेपी के निशाने पर रही है। पीएम मोदी ने कटमनी का उल्‍लेख कर एक बार फिर ममता सरकार पर निशाना साधा।

You might also like