कठलग आपदा पीडि़तों को तीन-तीन बिस्वा भूमि

आशियाना बनाने को मिलेगी जमीन-सिर ढकने को मिलेगी छत; नोटिफिकेशन जारी, 18 अगस्त को बरपा था कुदरत का कहर

घुमारवीं –कठलग में बरपे कुदरत के कहर से बेघर हुए परिवारों को आवास के लिए सरकार तीन-तीन बिस्वा भूमि देगी। इसकी नोटिफिकेशन जारी हो गई है तथा पीडि़त परिवारों को शीघ्र ही यह भूमि अलाट कर दी जाएगी। आपदा पीडि़त परिवारों को जमीन अलाट करने के लिए प्रशासन ने पूरी तैयारियां कर ली है। इससे उपमंडल घुमारवीं की कसारू पंचायत के गांव कठलग में साल 2019 के अगस्त में बरपे कुदरत के कहर से बेघर हुए सात परिवारों को ठहरने का ठिकाना मिल जाएगा। प्रदेश सरकार ने आपदा से पीडि़त कठलग के बेघर सात परिवारों के बसाव को तीन-तीन बिस्वा भूमि की स्वीकृति प्रदान कर नोटिफिकेशन जारी कर दी है। इससे मंदिर की सरायं व किराए के मकान में रहने वाले बेघर परिवारों को अपने घर मिलने की उम्मीद है। सरकार की कैबिनेट की मुहर के बाद नोटिफिकेशन जारी होते ही बेघर परिवारों को जमीन देने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसके बाद बेघर परिवार इस जमीन पर अपना सिर ढांपने के लिए आशियाने बना सकेंगे। जानकारी के मुताबिक 18 अगस्त को मूसलाधार बारिश ने जिला बिलासपुर की कसारू पंचायत के कठलग (करयालग) गांव में कहर मचाया था। बारिश से दस मकान, छह गोशालाएं जमींदोज हो गई थी। बारिश की इस तबाही से सात परिवार बेघर हो गए हैं। सात परिवारों के 23 लोगों को रेस्क्यू करके बाहर निकाला था। लैंड स्लाइडिंग से करीब 200 बीघा भूमि चपेट में आ गई थी। पहाड़ी दरकने से सारी जमीन खिसक गई, जिससे सात परिवार बेघर हो गए थे। इनमें श्याम लाल, जयदेई, रणजीत सिंह, नंद लाल, सुखदेई, बलवंत सिंह व विमला देवी के दस मकान व छह गोशालाएं जमींजोद हो गए थे। इस आपदा से मची तबाही ने जहां इन परिवारों के लोगों के सिर से आशियाने छीन लिए थे। बेघर हुए परिवारों के पास न जमीन बची है और न मकान। बेघर परिवारों के लोगों को ठहरने के लिए करयालग के बाबा बालक नाथ मंदिर के सरायं में प्रबंध किया था। सरकार व प्रशासन ने बेघर परिवारों के बसाव के लिए बलोह गांव के समीप जमीन चिन्हित की थी। सारा प्रोसेस पूरा करके स्वीकृति के लिए सरकार को फाइल भेजी थी। इसके बाद सरकार ने आपदा पीडि़त परिवारों के बसाव को तीन-तीन बिस्वा भूमि देने की स्वीकृति प्रदान कर नोटीफिकेशन जारी कर दी है। आपदा पीडि़तों को जमीन देने के लिए प्रशासन ने सारी औपचारकिताएं पूरी कर दी है। इससे कठलग में बरपी आपदा से पीडि़त परिवारों को शीघ्र ही जमीन मिल जाएगी। इससे मंदिर के सरायं व किराए के मकान में जीवन यापन कर रहे बेघर परिवारों को बसाव के लिए ठिकाना मिल जाएगा।

आवास बनाने को सरकार देगी दो-दो लाख

कसारू पंचायत के कठलग गांव में बरपे कुदरत के कहर से बेघर हुए सात परिवारों को आवास बनाने के लिए प्रदेश सरकार दो-दो लाख रुपये देगी। बेघर परिवारों को यह सहायता राशि मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत मिलेगी। आपदा से पीडि़त परिवारों को जमीन देने व आवास बनाने के लिए मदद करने को घुमारवीं के विधायक राजेंद्र गर्ग ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के समक्ष मांग रखी, जिसके बाद जयराम सरकार ने आपदा पीडि़तों को राहत दी है।

 

You might also like