कालेजों को मिलेंगे 2592 असिस्टेंट प्रोफेसर

शिक्षा मंत्री कंवर पाल बोले, नियुक्तियों से स्टाफ की नहीं रहेगी कमी

चंडीगढ़ – हरियाणा सरकार ने राजकीय कालेजों में शिक्षण स्टाफ की कमी को पूरा करने तथा विद्यार्थियों को गुणवत्तापरक शिक्षा मुहैया कराने के लिए इनमें जल्द ही 2592 सहायक प्रोफेसरों की नियुक्तियां करने का निर्णय लिया है। राज्य के शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने बताया कि इन नियुक्तियों के बाद सरकारी कालेजों में शैक्षणिक स्टाफ की कमी नहीं रहेगी। उन्होंने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने उच्चतर शिक्षा विभाग के अंतर्गत आने वाले सरकारी कालेजों के लिए सहायक प्रोफेसरों के 2592 नए पद सृजित करने को मंजूरी दे दी है। राज्य के गठन से लेकर आज तक सहायक प्रोफेसरों के एक साथ इतने पदों को पहली बार किसी सरकार ने मंजूरी प्रदान की है। मंत्री ने बताया कि वर्तमान में प्रदेश में कुल 157 राजकीय महाविद्यालय हैं, जिनमें लगभग 1.90 लाख विद्यार्थी उच्चतर शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। इन महाविद्यालयों के लिए इस समय 4975 सहायक प्रोफेसरों के स्वीकृत पद हैं। राज्य सरकार द्वारा अब 33 विभिन्न संकायों के सहायक प्रोफेसरों नये पद मंजूर करने से स्वीकृत पदों की कुल संख्या 7567 हो जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के उच्चतर शिक्षा विभाग के संस्थानों में सभी विद्यार्थियों को गुणवत्तापरक शिक्षा प्रदान करने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने बताया कि राज्य के विश्वविद्यालयों और कालेजों में सुधारात्मक कदम उठाने के लिए  सरकार ने हरियाणा राज्य उच्चतर शिक्षा परिषद का भी गठन किया है। वहीं, जल्द हरियाणा सरकार राजकीय कालेजों में शिक्षण स्टाफ की कमी को पूरा करने तथा विद्यार्थियों को गुणवत्तापरक शिक्षा मुहैया कराने के लिए इनमें जल्द ही 2592 सहायक प्रोफेसरों की नियुक्तियां करने जा रही है।

You might also like