चौगान में कसाकड़ा के शिक्षक को सम्मान

शिक्षा क्षेत्र में बेहतर कार्य करने पर गणतंत्र दिवस पर शहरी विकास मंत्री ने किया सम्मानित

चंबा –दिव्यांग बच्चों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ने और पर्यावरण संरक्षण व शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य को लेकर मिडल स्कूल कसाकड़ा के प्रशिक्षित स्नातक अध्यापक डा. राजेश सहगल को जिला प्रशासन ने सलाम ठोंका है। रविवार को ऐतिहासिक चौगान में आयोजित गणतंत्र दिवस के जिलास्तरीय समारोह के दौरान मुख्यातिथि शहरी व विकास मंत्री सरवीन चौधरी ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। मूल रूप से चंबा शहर के चौगान वार्ड के रहने वाले डा. राजेश सहगल के अथक प्रयासों से कसाकडा स्कूल में वर्तमान में 20 दिव्यांग बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। डा. राजेश सहगल दिव्यांग बच्चों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोडने के लिए बाकायदा अभिभावकों से मिलकर उनकी काउंसलिंग कर स्कूल भेजने को प्रेरित भी कर रहे हैं।  पर्यावरण संरक्षण को लेकर भी डा. राजेश सहगल के काम को भी लोगों द्धारा सराहा जा रहा है। वह अब तक पंद्रह सौ के करीब विभिन्न प्रजातियों के पौधे रोप चुके हैं। डा. राजेश सहगल एक बेहतर शिक्षक के अलावा पुरातत्वविद, मुद्रा विशेषज्ञ तथा टाकरी, शारदा, अरबी व उर्दू के अनुवादक के तौर पर भी जाने जाते हैं।

You might also like