जल्द बेनकाब होंगे ठग आढ़ती

सेब बागबानों को लूटने वालों की गिरफ्तारी के लिए यूपी-गुजरात निकली टीम

शिमला – सेब बागबानों से ठगी करने वाले कई आढ़ती जल्द ही बेनकाब होंगे। पुलिस एसआईटी की एक टीम यूपी और गुजरात के लिए निकल चुकी है। सूत्रों के मुताबिक इन दो राज्यों के कुछ आढ़तियों ने बागबानों से सेब खरीदे, लेकिन पैसे नहीं दिए। जब लोगों ने पुलिस में शिकायत की तो मामला सामने आया। हालांकि पुलिस एसआईटी ने अभी तक 30 से अधिक आढ़तियों को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन कुछ ऐसे हैं, जिनके पास लाखों रुपए फंसे हुए हैं। इसे देखते हुए एसआईटी की एक टीम यूपी और गुजरात में फर्जी आढ़तियों की तलाश में निकल चुकी है। वहीं, दूसरी तरफ बीते दिनों यू्पी के जौनपुर से गिरफ्तार किए गए आढ़ती 14 दिन तक न्यायिक हिरासत में हैं। आरोपी कुछ पैसे जमा करने के लिए तैयार हुआ, लेकिन जब तक आधे से ज्यादा पैसे जमा नहीं करता, तब तक रिमांड जारी रहेगा। पुलिस एसआईटी ने पिछले दिनों 26 लाख की बकाया राशि से जुड़े मामले में नीरज यादव को गिरफ्तार किया था। इसी मामले में उसके एक अन्य साथी की भी तलाश जांच एजेंसी को है। सूचना के अनुसार करीब एक दर्जन छोटे बागबानों ने इस आरोपी के खिलाफ एसआईटी को शिकायत दी थी। आरोप था कि लंबे समय से करीब 26 लाख रुपए की बकाया राशि नहीं दी है। कई दफा बकाया राशि को लेकर आढ़ती से संपर्क भी किया गया, लेकिन अभी तक भुगतान नहीं किया गया। जानकारी के मुताबिक पुलिस एसआईटी की कार्रवाई और बाहरी राज्यों में दबिश देने के बाद ही अब तक 30 फर्जी आढ़तियों को गिरफ्त में ले लिया। हालांकि जिन आढ़तियों ने बागबानों के पैसे लौटा दिए हैं, उन्हें बेल भी मिल गई है। जानकारी के मुताबिक अब तक पुलिस एसआईटी ने सात करोड़ से अधिक की रिकवरी कर ली है।

दिल्ली-चंडीगढ़ के हैं ज्यादातार आढ़ती

सेब बागबानों से ठगी करने वाले दिल्ली, चंडीगढ़ और शिमला के ये ऐसे आढ़ती हैं, जिन्होंने ऊपरी शिमला और किन्नौर के कुछ बागबानों से पिछले साल सेब खरीदने के  बावजूद लाखों की राशि बागबानों को नहीं दी। पिछले साल से पुलिस एसआईटी की ओर से कार्रवाई जारी है। पुलिस बार-बार इन आढ़तियों को चेतावनी दे रही हैं कि बागबानों के पैसे जमा करो, अन्यथा जेल जाने को भी तैयार रहो। शिमला सहित बाहरी राज्यों के आढ़तियों ने पिछले साल बागबानों के करोड़ों रुपए डकारे हैं। ऐसे आढ़तियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए पुलिस की एसआईटी इन दिनों कार्रवाई कर रही है।

You might also like