निर्भया के गुनहगारों को बचाने की कोशिश कर रही AAP सरकार: मनोज तिवारी

निर्भया गैंगरेप केस को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा. मनोज तिवारी ने कहा, ‘दो सालों तक गुनहगारों को सजा के बारे में बताना था, फिर दिल्ली सरकार ने क्यों नहीं बताया. यह मामला जेल विभाग का है और जेल विभाग दिल्ली सरकार के पास है. आम आदमी पार्टी की सरकार ऐसा करती है, उपर से दिल्ली के उप मुख्यमंत्री कहते हैं कि हमारे पास दिल्ली पुलिस होती, तो सजा दिला देते.’ मनोज तिवारी ने कहा, ‘अब तो स्पष्ट हो चुका है जो काम केजरीवाल सरकार का था, उन्होंने नहीं किया. केजरीवाल सरकार ने जानबूझकर गुनहगारों को बचाने की कोशिश की. ये सवाल राजनीति का नहीं, बल्कि अगर आप बलात्कारियों को भी बचाने की कोशिश करते हैं. ‘ वहीं निर्भया के दोषियों की फांसी में बार-बार हो रही देरी पर निर्भया की मां ने शनिवार को आदमी आदमी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी पर बेहद नाराजगी जताई है. AAP और BJP का नाम लिए बिना निर्भया की मां ने बिलखते हुए कहा कि जब 2012 में उनकी बेटी के दरिंदों ने वहशीपन किया था उस वक्त इन दोनों दलों के लोगों ने सिर पर काली पट्टी बांधी और हाथ में तिरंगा लेकर प्रदर्शन किया था.

AAP-BJP में जारी है बयानबाजी

दिल्ली के डिप्टी सीएम और आप नेता मनीष सिसोदिया ने कहा था कि दिल्ली पुलिस आप सरकार को दो दिन के लिए दे दी जाए, निर्भया के दोषियों को हम फांसी चढ़वा देंगे. इससे पहले केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता प्रकाश जावड़ेकर ने कहा था कि निर्भया के दोषियों को फांसी में देरी के पीछे AAP सरकार की लापरवाही है. दोनों पार्टियों की ओर से फांसी में होने वाली देरी को लेकर यही बयान दिए जा रहे हैं.

अब 1 फरवरी को फांसी

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया गैंगरेप केस के चारों दोषियों के लिए नया डेथ वारंट कोर्ट जारी कर दिया है. चारों दोषियों को अब 1 फरवरी सुबह 6 बजे फांसी दी जाएगी. पहले चारों दोषी विनय, मुकेश, पवन और अक्षय को 22 जनवरी को फांसी दी जानी थी.

You might also like