नौकरी के बहाने नौ लाख की ठगी

हल्द्वानी में बेरोजगार युवक को नियुक्ति से संबंधित फर्जी दस्तावेज देने के मामले में हडकंप

हल्द्वानी  – उत्तराखंड में नैनीताल जिले के हल्द्वानी में एक बेरोजगार युवक को केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क विभाग में स्थायी नौकरी दिलाने के नाम पर पीडि़त के भाई से कथित तौर पर नौ लाख रुपए लेकर नियुक्ति से संबंधित फर्जी दस्तावेज देने का मामला प्रकाश में आया है। पुलिस ने इस मामले में तीन महिलाओं समेत चार अभियुक्तों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरूकर दी है। इस सम्बंध में शिकायतकर्ता स्थानीय निवासी करन सिंह बोरा के अधिवक्ता रमेश चंद्र पांडेय ‘पथिक’ ने गुरुवार को बताया कि शिकायतकर्ता के बेरोजगार भाई महिपाल सिंह बोरा को केन्द्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर नौ लाख रुपए लिए थे। नियुक्ति पत्र फर्जी पाये जाने के बाद शिकायतकर्ता ने आरोपी किरन बिष्ट, गीता बिष्ट, रजत एवं दीपा के खिलाफ थाना हल्द्वानी में पांच जनवरी को आवश्यक संलग्नों सहित तहरीर दी थी। उन्होंने बताया कि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 420,468 व 471 में मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। उन्होंने बताया कि आरोपियों ने पीडि़त पक्ष से नौ लाख रुपए की रकम चैक, नकद एवं राष्ट्रीय इलेक्ट्रानिक निधि अंतरण(एनईएफटी) के जरिये प्राप्त की थी। श्री पाण्डेय ने यह भी बताया कि आरोपी किरन बिष्ट के रिश्तेदार रजत ने ‘कस्टम एक्साईज आफिसर’ पद के लिए पीड़ति महिपाल के नाम से 13 अप्रैल 2018 को जारी नियुक्ति पत्र ईमेल के माध्यम से उपलब्ध कराया जिसमें नियुक्ति की तिथि 21 अप्रैल, 2018 अंकित थी। इस नियुक्ति पत्र में सीमा शुल्क एवं केन्द्रीय उत्पाद शुल्क भारत सरकार की मुहर होने के अलावा कस्टम क्लीयरेन्स डिपार्टमेन्ट इंदिरा गांधी एयरपोर्ट का पता भी अंकित था। इसके बाद जीमेल से भी नियुक्ति पत्र उपलब्ध कराया गया, जिसमें मनमोहन ठाकुर सिंह कस्टम एंड सेन्ट्रल एक्साईज कस्टम क्लीयरेंस डिपार्टमेंट आईजीआई नई दिल्ली 110037 का पता अंकित था। पीडि़त ने जब डाक के जरिये नियुक्ति पत्र के संबंध में जानकारी लेनी चाही तो भेजे गये पते से डाक वापस आ गई। अधिवक्ता ने बताया कि आरोपी किरन बिष्ट और गीता बिष्ट नैनीताल जिले के लालकुआं में मोटाहल्दू के रहने वाले हैं जबकि दो अन्य आरोपी रजत और दीपा नई दिल्ली के उत्तम नगर में मोहन गार्डन इलाके के निवासी हैं।

इनामी बदमाश को पुलिस ने दबोचा

नैनीताल। उत्तराखंड के ऊधमिंसंह नगर में स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) एवं पुलिस को संयुक्त रूप से गुरुवार को उस समय सफलता हाथ लगी जब लंबे समय से फरार चल रहा एक इनामी बदमाश को उन्होंने धर दबोचा और अदालत में पेश कर उसे जेल भेज दिया गया। ऊधमसिंह नगर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मामला खटीमा थाना का है।

 

You might also like