नौणी के वैज्ञानिक को सर्वश्रेष्ठ शिक्षक पुरस्कार

रायपुर में मिला अवार्ड, विश्वविद्यालय के दो पीएचडी छात्रों को भी सम्मान

नौणी (सोलन) – अखिल भारतीय कृषि छात्र संघ एवं भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) नई दिल्ली द्वारा रायपुर के इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय में दो दिवसीय राष्ट्रीय युवा सम्मेलन आयोजित किया गया। इस सम्मेलन का विषय ‘अगली पीढ़ी की कृषि नवाचार चुनौतियों एवं कृषि के क्षेत्र में स्थायी रोजगार सृजन’ था। इस सम्मेलन में देशभर से 74 विश्वविद्यालयों के वैज्ञानिक एवं शोधकर्ता शामिल हुए। इस समारोह के मुख्यातिथि आईसीएआर के उपमहानिदेशक डा. आरसी अग्रवाल रहे। इसके अलावा विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपति भी इस सम्मेलन में शामिल हुए। इस आयोजन में नौणी विश्वविद्यालय के वनवर्द्धन एवं कृषि वानिकी विभाग में कार्यरत प्रधान वैज्ञानिक डा. केएस पंत को बेस्ट टीचर अवार्ड से नवाजा गया। आईसीएआर के डीडीजी डा. आरसी अग्रवाल द्वारा यह सम्मान डा. पंत को दिया गया। यह सम्मान डा. पंत को उनके शिक्षा और विस्तार में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रदान किया गया। डा. पंत ने 15 एमएससी एवं 10 पीएचडी छात्रों का मार्गदर्शन किया है और 60 से अधिक शोधपत्र भी प्रकाशित किए हैं। डा. पंत को जून, 2019 में भी  ट्रॉपिकल सोसायटी ऑफ इंडिया द्वारा फैलो के रूप में सम्मानित किया गया था। इसके अलावा विश्वविद्यालय के दो पीएचडी छात्रों ने भी इस सम्मेलन में पुरस्कार अपने नाम किए। इस दौरान पीएचडी कृषि व्यवसाय के छात्र पंकज ठाकुर को ‘आह्वान’ अवार्ड से सम्मानित किया गया। पंकज को विश्वविद्यालय में अखिल भारतीय कृषि छात्र संघ की 500 से ज्यादा रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए इस अवार्ड से सम्मानित किया गया है। वर्तमान में पंकज नौणी विश्वविद्यालय के  अखिल भारतीय कृषि छात्र संघ की विश्वविद्यालय इकाई के अध्यक्ष है। पीएचडी कृषि व्यवसाय के एक और छात्र प्रियंक शर्मा ने मौखिक प्रस्तुति के लिए दूसरा पुरस्कार जीता। इस सम्मेलन में नौणी विश्वविद्यालय के पीएचडी के छात्र प्रवीण वर्मा, जो कि अखिल भारतीय कृषि छात्र संघ के राष्ट्रीय महासचिव हैं, सहित अन्य छात्र मौजूद रहे। विश्वविद्यालय के कुलपति डा. परविंदर कौशल, अधिकारियों और छात्रों ने इस उपलब्धि पर सभी को बधाई दी।

You might also like