पहली गेंद से न्यूजीलैंड पर बनाएंगे दबाव

भारतीय कप्तान विराट कोहली का प्लान, 24 को होगा पांच मैचों की सीरीज का पहला टी-20

बंगलूर – भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि आस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में जीत और पिछले साल न्यू जीलैंड में अच्छे प्रदर्शन से उनकी टीम 24 जनवरी से शुरू होने वाले दौरे को लेकर आत्मविश्वास से भरी है। विराट का लक्ष्य कीवी टीम को पहली गेंद से ही दबाव में रखना होगा। भारतीय टीम न्यूजीलैंड दौरे में पांच टी-20 अंतरराष्ट्रीय, तीन एकदिवसीय और दो टेस्ट मैच खेलेगी। पिछले साल भारत ने न्यूजीलैंड को वनडे में 4-1 से हराया था, लेकिन टी-20 सीरीज वह 1-2 से गंवा बैठा था। कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे और अंतिम वनडे में सात विकेट से जीत के बाद कहा कि न्यूजीलैंड में पिछले साल के प्रदर्शन से हमारा काफी आत्वविश्वास बढ़ा है। हमें कैसे खेलना है, इसको लेकर बेहद सकारात्मक थे, हम क्या करना चाहते हैं इसको लेकिर बहुत सुनिश्चित थे। विदेशों में खेलने पर अगर आप घरेलू टीम को दबाव में रखने में सफल रहते हो, तो फिर आप अपनी क्रिकेट का आनंद ले सकते हो।

2020 में हम ऊपर और आगे जाना चाहते हैं

बंगलूर – भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि वह एक मैच गंवाने के बाद आस्ट्रेलिया से इस सीरीज को जीतकर बहुत संतुष्ट हैं और 2020 में उनकी टीम का लक्ष्य ऊपर और आगे बढ़ना है। इस वर्ष आस्ट्रेलिया की ज़मीन पर आईसीसी टी-20 विश्वकप का आयोजन होना है और विराट की कप्तानी वाली भारतीय टीम खिताब की प्रबल दावेदारों में है। भारत ने रविवार को तीसरे और निर्णायक वनडे में सात विकेट से जीत अपने नाम कर सीरीज़ को 2-1 से अपने नाम कर लिया, उसे पहले मैच में 10 विकेट से शर्मनाक हार झेलनी पड़ी थी। विराट इस सीरीज़ में मैन ऑफ द मैच बने। उन्होंने बंगलूर में 89 रन की पारी खेली जो आईपीएल की उनकी टीम रॉयल चैलेंजर्स बंगलूर का घरेलू मैदान भी है। मैच के बाद उन्होंने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि हमारे पास कई अनुभवी खिलाड़ी हैं। हमारे पास इस मैच में शिखर धवन नहीं थे, लेकिन हमें अच्छा शुरुआत मिली और लोकेश राहुल के आउट होने के बाद बॉल बहुत टर्न कर रही थी, इसलिए स्थिति काफी मुश्किलभरी हो गई थी। इसलिए हम टिके रहकर खेलना चाहते थे।

कोहली सर्वकालिक महान, रोहित शर्मा शीर्ष पांच में

बंगलूर – आस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच ने भारतीय कप्तान विराट कोहली को सर्वकालिक महान वनडे खिलाड़ी करार दिया, जबकि रोहित शर्मा को शीर्ष पांच में शामिल किया। रोहित ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे में 119 रन बनाए, जो उनका 29वां वनडे शतक है। कोहली ने 89 गेंदों पर 91 रन बनाए। इन दोनों ने 137 रन की साझेदारी की जिससे भारत ने यह मैच आसानी से जीता। फिंच का मानना है कि सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के कंधे की चोट के कारण बल्लेबाजी के लिए नहीं उतरने के बावजूद इन दोनें की पारियों से भारत ने 287 रन के लक्ष्य को आसानी से हासिल किया। फिंच ने मैच के बाद कहा कि उनके पास विराट है, जो शायद सर्वकालिक महान वनडे खिलाड़ी है और रोहित है, जो शायद सर्वकालिक बल्लेबाजों की सूची में शीर्ष पांच में शामिल होगा। वे लाजवाब हैं और अभी भारतीय टीम की विशेषता यह है कि उसके अनुभवी खिलाड़ी बड़े मैचों में अपनी भूमिका अच्छी तरह से निभा रहे हैं।

You might also like