वरिंद्र गौतम के छात्रों ने निहारे प्रोजेक्ट्स

संतोषगढ़ –मंगलवार को संतोषगढ़ के वरिंद्र गौतम राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक बाल विद्यालय के सैकड़ों विद्यार्थियों ने अपने प्रभारी शमशेर सिंह व प्रवीण नेगी के नेतृत्व में हिमाचल व भारत सरकार द्वारा क्राफ्ट स्कीम के अंतर्गत चल रही ऊना जिला की नंबर वन ग्रेडिंग में दर्ज हिम गौरव आईटीआई का भ्रमण कर वहां पर स्थापित आधुनिक वर्कशॉपों में लगी नई तकनीक की मशीनों की जानकारी ली। हिम गौरव के ट्रेनियों द्वारा बनाए गए विभिन्न प्रकार के प्रोजेक्टों को निहारा व उनके बनने की तकनीक से रू-ब-रू हुए। इस मौके पर हिम गौरव आईटीआई के निदेशक सतीश जोशी ने मेहमान विद्यार्थियों का मार्गदर्शन करते हुए कहा कि आज के इस आधुनिक युग में युवा पीढ़ी को शैक्षिणक योग्यता के साथ-साथ तकनीकी प्रशिक्षण लेना प्राथमिकता ही नहीं बल्कि महत्त्वपूर्ण हो गया है क्योंकि आज देश को कुशल कारीगरों की आवश्यकता है। हर उद्योग कारखाने में आईटीआई प्रशिक्षण की मांग है तथा देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी स्किल इंडिया के सपने को प्राथमिकता व कारखानों में कुशल कारीगरों की मांग को देखते हुए इसे सफल करने के जोरदार कदम उठा रहे है तथा देश के सभी प्रदेशों को इसके लिए कड़े निर्देश दे रहे है। श्री जोशी ने विद्यार्थीयों को बताया कि भारत सरकार ने यह नियम भी पास कर दिया है कि जो छात्र-छात्राएं दसवीं कक्षा पास करने के बाद दो वर्ष का आईटीआई कोर्स करता है उसे बारहवीं के मात्र दो पेपर पास करने पर बारहवीं का प्रमाण पत्र भी मिलेगा। इस मौके पर हिम गौरव के प्रबंधक रणवीर सिंह व उपप्रधानाचार्य मुकेश कुमार ने मेहमान छात्रों को आईटीआई में चल रहे विभिन्न कोर्स की जानकारी दी व नए-नए उपकरणों को चलाने के तरीके सिखाए। इस मौके पर स्कूल के प्रभारी शमशेर सिंह व प्रवीण नेगी के साथ-साथ हिम गौरव के अनुदेशक गुरनिंद्र सिहं, संदीप, गगनदीप, नवीन, धनीराम, अमरजीत, राहुल, रूमांशु, ममता, मनदीप व पूनम भी उपस्थित थे।

You might also like