हाथ-पैर बांध रात भर पीटी पत्नी फिर करतूत छिपाने चला गया थाने

औट – शादी की पहली सालगिरह पर जालिम पति ने पत्नी की बेरहमी से पिटाई कर डाली। मां के साथ मिलकर बेटे ने महिला को ऐसी बेरहमी से मारा कि शरीर के हर हिस्से में मार के गहरे निशान पड़ गए। हाथ-पैर बांधकर और मुंह पर टेप लगाकर पूरी रात पति व सास पीडि़ता को मारते रहे। किसी तरह वह अगली सुबह जान बचाकर मायके पहुंची। पीडि़ता के जख्मों को देख उसकी भाभी से नहीं रहा गया और उसने सोशल मीडिया पर वीडियो अपलोड कर दिया, जिसके बाद वायरल हुए वीडियो ने मंडी पुलिस से लेकर प्रदेश सरकार तक को झकझोर कर रख दिया। मंडी जिला के पनारसा से संबंधित इस मामले में अब पुलिस ने आरोपी पति और सास को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि पीडि़ता को कुल्लू अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है। मंगलवार को पुलिस ने पीडि़ता के घर पहुंच उसके व परिजनों के बयान भी दर्ज किए हैं। एसपी ने मामले में जांच का जिम्मा डीएसपी रैंक के अधिकारी को सौंपा है। वहीं, पीडि़ता का आरोप है कि पहले दहेज और अब तलाक के लिए उसकी बेरहमी से पिटाई की गई।

हैवानियत ऐसी कि कांप जाएगी आपकी रूह

थलौट निवासी महिला की 26 जनवरी, 2019 को पनारसा निवासी चिरंजी के साथ शादी हुई। शादी के बाद से ही ससुराल वालों ने उसे प्रताडि़त करना शुरू कर दिया, लेकिन 26 जनवरी, 2020 को शादी की सालगिरह थी, तो चिरंजी और उसकी मां इंद्रा देवी ने क्रूरता की सारी हदें पार कर दी। बेटे और मां ने महिला को इतनी बेरहमी से पीटा कि उसे शरीर पर बड़े-बड़े घाव पड़ गए। पीडि़ता ने बताया कि उसकी सास और पति ने पहले ही उसे जान से मारने की योजना बनाई थी। 26 जनवरी की रात आरोपी सास ने बहू को अपने कमरे में बुलाया और मां-बेटे दोनों ने पीडि़ता के हाथ-पैर बांध दिए तथा मुंह में टेप चिपका दी। दोनों दरिंदे रात भर पीडि़ता को बेरहमी से मारते रहे। पीडि़ता ने बताया कि सुबह दोनों मां-बेटे ने उसे नहलाया और फिर हाथ पैर बांधकर कमरे में बंधक बनाकर रखा, जिसके बाद पीडि़ता खिड़की से कूदकर घर से भाग निकली। 27 जनवरी को वह अपने मायके पहुंची और सारा हाल सुनाया। मायके वालों ने खुशबू के शरीर पर पड़े घावों का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया। वहीं औट थाना में जाकर शिकायत भी दर्ज करवा दी।

…आरोपी पति सास गिरफ्तार

एसपी गुरदेव शर्मा ने बताया कि आईपीसी के तहत धारा 498 और 323 के तहत मामला दर्ज करके आरोपी पति चिरंजी लाल और सास इंद्रा देवी को गिरफ्तार कर लिया  है। उन्होंने बताया कि मामले की जांच जारी है।

पीडि़ता बोली, नहीं भागती तो मार देते

पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि अगर वह घर से नहीं भागती, तो उसे मार दिया जाता। कमरे में बंद करने के बाद पति पीडि़ता की गुमशुदा की रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए औट थाने चला गया था, ताकि मुझे मार कर लापता घोषित कर दिया जाए, लेकिन मैंने हिम्मत कर खिड़की से कूदकर जान बचा ली।

सोशल मीडिया पर फूटा लोगों का गुस्सा

पीडि़ता की भाभी द्वारा सोशल मीडिया पर डाले गए वीडियो के हजारों शेयर हुए हैं और लाखों लोगों ने इसे देखा है। लोगों ने कमेंट कर खुशबू के साथ हुई घटना को हैवानियत करार दिया है। पीडि़ता की भाभी ने वीडियो सोशल मीडिया पर डालकर न सिर्फ हिम्मत दिखाई, बल्कि उसने समाज व सरकार से भी कई सवाल किए हैं।

सीएम ने दिए तुरंत जांच के आदेश

परिवहन मंत्री ने पीडि़ता के परिजनों से की बात, न्याय दिलाएंगे

मंडी – थलौट की महिला के साथ पति व सास की पिटाई से मिले जख्मों की दर्दनाक कहानी का वीडियो वायरल होने के बाद मंगलवार को प्रदेश सरकार भी हरकत में आ गई। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस मामले में पुलिस को तुरंत जांच के आदेश देते हुए कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा। मुख्यमंत्री के आदेशों पर वन परिवहन एवं युवा खेल मंत्री गोविंद ठाकुर ने पीडि़ता के परिजनों से फोन पर बात भी और न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया। गोविंद ठाकुर ने बताया कि पीडि़ता की माता से फोन पर बात करके पुलिस अधीक्षक मंडी को इस मामले पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही जिला अस्पताल कुल्लू और उपायुक्त को इलाज करने के लिए हरसंभव सहयोग करने आदेश दिए गए हैं। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। गोविंद ठाकुर ने बताया कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस मामले में गंभीरता दिखाते हुए तुरंत कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। सरकार पीडि़ता व परिवार को हरसंभव सहायता उपलब्ध करवाएगी।

You might also like