99 सड़कें अभी भी जाम…

पीडब्ल्यूडी की मुश्किलें बढ़ीं, शिमला में एक एनएच पर भी थमे पहिए

शिमला – हिमाचल में जनजीवन पूरी तरह पटरी पर नहीं लौट पाया है। बर्फबारी के कारण राज्य में अभी भी 99 सड़कें यातायात के लिए अवरुद्ध पड़ी हुई हैं। सड़कों के अवरुद्ध होने से जनता को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि पीडब्ल्यूडी द्वारा अवरुद्ध सड़कें बहाल करने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य किया जा रहा है, लेकिन भारी बर्फ ने विभाग की मुश्किलें बढ़ाई हुई हैं। शिमला ज़ोन में सबसे ज्यादा सड़कें यातायात के लिए बंद हैं। शिमला ज़ोन में अभी भी 47 सड़कें यातायात के लिए बंद हैं। शिमला ज़ोन के रामपुर सर्किल में 39 सड़कें यातायात के लिए ठप पड़ी हुई हैं, वहीं रोहडू में पांच और शिमला सर्किल में तीन सड़कों पर वाहनों की आवाजाही थमी हुई है। मंडी ज़ोन में 35 सड़कें यातायात के लिए बंद हैं। मंडी ज़ोन के मंडी सर्किल में 24 व कुल्लू सर्किल में 11 सड़कें यातायात के लिए अवरुद्ध हैं। कांगड़ा ज़ोन में 16 मार्ग यातायात के लिए ठप पड़े हुए हैं। सभी 16 सड़कें डलहौजी सर्किल में बदं हैं। सड़कें अवरुद्ध होने से जनता को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। पीडब्ल्यूडी दावा कर रहा है कि 99 बंद सड़कों में से सोमवार देर शाम तक 30 सड़कें यातायात के लिए बहाल हो जाएंगी। 36 सड़कें मंगलवार शाम तक और शेष सड़कें 21 तक वाहनों की आवाजाही के लिए बहाल हो जाएंगी। शिमला में एक एनएच भी यातायात के लिए बाधित चल रहा है।

पीडब्ल्यूडी को 129 करोड़ की चपत

हिमाचल में विंटर सीजन पीडब्ल्यूडी को भारी चपत लगा रहा है। लोक निर्माण विभाग को अब तक 129 करोड़ का नुकसान हो चुका है। बर्फबारी से कांगड़ा ज़ोन में सबसे ज्यादा नुकसान रिकॉर्ड किया गया। वहीं, शिमला और मंडी ज़ोन में भी लाखों का नुकसान आंका जा रहा है।

You might also like