एक नजर

होशियारपुर में क्विज प्रतियोगिता 

होशियारपुर। डीएवी कालेज होशियारपुर में मेजर राजकुमार की स्मृति में क्विज कोपिटीशन का आयोजन मैनेजिंग कमेटी के सचिव डी.एल आनंद की अध्यक्षता तथा प्रिंसिपल डा. नीरजा ढीगंरा के मार्गदर्शन में हुआ। इसमें राजकीय कालेज होशियारपुर डीएवी कानेज ऑफ एजूकेशन, पंजाब यूनिवर्सिटी रिजनल कालेज होशियारपुर के छात्रों ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया। इस कार्यक्रम में सुचेता आशीष देव ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। क्विज मास्टर प्रो. परमवीर जगत ने प्रतिभआगियों से इतिहास, विज्ञान, भूगोल, खेल एवं फिल्म आदि के क्षेत्रों से प्रश्न किए। वहीं सुचेता आशीष ने छात्रों को बताया कि उन्हें नकरात्मक सोच का त्याग कर अपने करियर पर ध्यान देना चाहिए।

एलपीयू में फार्मेसी एजुकेशन को बढ़ावा

जालंधर। फार्मेसी कांउसिल ऑफ इंडिया (पीसीआई) के प्रैज़ीडेंट प्रो. डा. बी सुरेश लवली प्रोफैशनल यूनिवर्सिटी (एलपीयू) के स्कूल ऑफ फार्मास्युटिकल साईंसिज़ में पहुंचे, जहां उन्होंने एलपीयू के फार्मेसी के विद्यार्थियों से गहन बातचीत की। डा. सुरेश ने एलपीयू के विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे फार्मेसी प्रोफैशन को विश्व के मानचित्र पर उतारें। फार्मेसी एजुकेशन के प्रति चिंता करते हुए फार्मेसी के क्षेत्र में प्रख्यात शिक्षाविद डा. बी सुरेश ने सभी से सांझा किया कि फार्मेसी एजुकेशन को नवीनतम मार्गदर्शन और तीव्रता की ज़रूरत है। अपने व्यक्तिगत जीवन तथा वर्तमान पदवी पर पहुंचने की यात्रा के बारे में बातें सांझा करते हुए उन्होंने चिंता व्यक्त की कि भारत में फार्मेसी एजुकेशन अधिक लोकप्रिय क्यों नहीं हो रही। हैल्थ साईंस ही एक ‘रिसेशन फ्री सेगमेंट’ है। उन्होंने इंटर डिस्पलिनरी साईंस एजुकेशन पर जोर दिया। वे चाहते हैं कि फार्मेसी के विद्यार्थी लाईफ साईंसिज़ के विद्यार्थियों के साथ कार्य करें ताकि वे अपने निर्धारित लक्ष्य तक पहुंच सकें। इस तर्ज पर उन्होंने विद्यार्थियों से बदलाव लाने के लिए कहा और यह भी बताया कि नवीनता के प्रति आगे आने के लिए उन्हें स्वयं पहल करनी होगी। उन्होंने विद्यार्थियों से ये भी वादा किया कि उनकी प्रोफैशनल आवश्यकताओं के लिए कांउसिल पूरी तरह से सहायक होगी।

You might also like