कांगड़ा में निकली भोले की बारात

बाबा वीरभद्र व शिवला महोदव में भगवान भोले शंकर की झांकी में भजनों पर नाचे शिवभक्त

कांगड़ा – शादी की शहनाइयां भी बजी और बैंड बाजे भी बजे। विधिवत रूप से हिंदू रीति-रिवाज से शादी की परंपराएं भी निभाई गईं। मौका था कि शंकर महादेव की बारात का। गुरुवार को श्री बाबा वीरभद्र व  शिवाला महादेव कांगड़ा के तत्त्वावधान में भगवान भोले शंकर की बारात का आयोजन किया गया। इस मौके पर डीजे की धुनों पर भक्त खूब झूमे। भगवान शंकर की बारात माता बज्रेश्वरी देवी मंदिर पहुंची, जहां वधू पक्ष के लोगों ने महादेव की बारात का खूब स्वागत किया। खान-पान भी हुआ और संस्कृत श्लोकों व मंत्रोच्चारण के साथ शिव पार्वती का ब्याह रचाया गया। भव्य झांकियों का अजब नजारा देखने के लिए खूब भीड़ उमड़ी थी। तहसील चौक पर  सजाए गए मंच  पर  प्रस्तुत झांकियों को सैकड़ों लोगों ने अपने मोबाइल के कैमरे में कैद कर लिया। आयोजकों में शुमार ट्रस्ट के प्रधान पंडित वेद प्रकाश शर्मा, डा. राजेश शर्मा, नरेंद्र तरहेन, राकेश कथूरिया, रमेश मेहशी, अमन वालिया, विशाल शर्मा, रितेश सोनी, मनीष बाबा भल्ला, अंकुश मल्होत्रा, ऋषि मदान, अंकज सोनी व विशाल सोनी सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उत्साहित थे। इस मौके पर खूब आतिशबाजी भी हुई और डीजे पर भोले के भक्त खूब झूमे। दीगर है कि बाबा वीरभद्र मंदिर के प्रति कांगड़ा के लोगों की गहरी आस्था है और शिवरात्रि का पर्व यहां धूमधाम से मनाया जाता है। यज्ञ कुंड में सती के भस्म हो जाने पर शंकर के आदेश पर वीरभद्र गणों ने यज्ञ विध्वंस कर दिया था, उसी के रूप में यह शंकर का मंदिर है। रुद्राभिषेक पाठ के अनुष्ठान भी यंहा करवाते हैं, शिवरात्रि के मौका पर यहां भक्तों की भारी भीड़ उमड़ी है।

You might also like