दिव्या ने भारत की झोली में डाला सोना

नई दिल्ली – भारत की दिव्या काकरान ने सीनियर एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप के तीसरे दिन यहां इंदिरा गांधी स्टेडियम के केडी जाधव कुश्ती हाल में गुरुवार को शानदार प्रदर्शन करते हुए 68 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक जीत लिया। दिव्या ने इस तरह भारत को प्रतियोगिता में दूसरा स्वर्ण और कुल छठा पदक दिला दिया। दिव्या के भार वर्ग में कुल पांच पहलवान होने के कारण राउंड रोबिन सिस्टम का सहारा लिया गया जिसमें हर पहलवान को दूसरे पहलवान से भिड़ना होता है। दिव्या ने अपने चारों मुकाबले जीते और स्वर्ण पदक की हकदार बनी।  दिव्या ने 68 किग्रा भार वर्ग में जापानी खिलाड़ी नारुहा मत्सुयुकी को 6-4 से मात देते हुए स्वर्ण अपने नाम कर लिया। भारतीय महिला कुश्ती के इतिहास को देखा जाए तो एशियाई चैंपियनशिप के महिला वर्ग में भारत का यह दूसरा स्वर्ण पदक है। इससे पहले भारत की नवजोत कौर ने सीनियर एशियाई चैंपियनशिप 2018 किर्गिस्तान में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बनीं थी। दिव्या ने अपने पहले राउंड में कजाकिस्तान की अल्बिना कैरगेल्डिनोवा को 6-0, दूसरे राउंड में मंगोलिया की पहलवान देलगेरमा एनखसाईखान को 11-2, तीसरे राउंड में उज्बेकिस्तान की अजोदा एस्बेजेनोवा को 8-0 और चौथे राउंड में जापान की नारुहा मत्सुयुकी को 6-4 से मात देते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा किया।

 

You might also like