देवताओं से सुख-समृद्धि की कामना

अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव के तीसरे दिन नतमस्तक हुए हजारों भक्त, मन्नतें भी चढ़ाईं

मंडी-अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव में आए देवी-देवता लोगों को वरदान बांट रहे हैं। पूरी छोटी काशी सुबह छह बजे से लेकर आधी रात तक देव ध्वनियों से गूंज रही है। हर सुबह कालेज मैदान में देवी-देवता विराजमान हो रहे हैं और फिर हजारों लोगों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो जाता है। शिवरात्रि महोत्सव के तीसरे दिन भी हजारों लोगों ने कालेज मैदान में पहुंच कर माथा टेका। लोग देवी-देवताओं को अपने दुखडे़ सुना रहे हैं और उनका समाधान देवी-देवता कर रहे हैं। कहीं संतान प्राप्ति के लिए झोली फैलाई जा रही है, तो किसी देवता से असाध्य रोग दूर करने की फरियाद भक्त लगाते हुए दिख रहे हैं। कहीं पर न्याय मांगा जा रहा है तो कोई नौकरी, तो कोई शादी करवाने की फरियाद लेकर देवी-देवताओं के दर पहुंच रहा है। प्राचीन व प्रमुख देवताओं के पास लोगों की भीड़ लगी हुई है। सोमवार को भी हजारों लोगों ने माथा टेककर देवी-देवताओं से आशीर्वाद प्राप्त किया। शिवरात्रि महोत्सव के लिए अब तक पंजीकृत देवताओं में 188 देवी-देवता पहुंच चुके हैं। अभी भी देवी-देवताओं के आने क्रम चला हुआ है। उधर, शिवरात्रि महोत्सव के लिए पड्डल मैदान में चल रहे मेले में भी काफी भीड़ उमड़ रही है। मेले के तीसरे दिन भी लोगों ने जमकर खरीददारी की। सर्व देवता समिति के अध्यक्ष पंडित शिवपाल शर्मा ने बताया कि अब तक 188 देवी-देवता शिवरात्रि महोत्सव के लिए पहुंच चुके हैं।

मौत का कुआं बना आकर्षण का केंद्र

पड्डल मैदान में सजे मेले में इस बार भी विभिन्न प्रकार के झूले लगाए हैं, जो कि बच्चों के साथ बड़ों को भी खूब पसंद आ रहे हैं। हालाकि इस बार झूलों के रेट काफी बढे़ हुए हैं, लेकिन इसके बाद भी झूलों का आनंद हर कोई ले रहा है। मेले में बडे़ झूले के साथ ही टे्रन की सवारी और बच्चों के लिए पानी कि किस्ती सबसे अधिक पंसद की जा रही है। तो मौत का कुआं युवाओं के लिए सबसे अधिक आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

धूल मिट्टी गंदगी से लोग परेशान

मेले के दौरान नगर परिषद बेहतर सफाई के लाखों दावे कर रही है, लेकिन लोगों को धूल मिट्टी और गंदगी से परेशान होना पड़ रहा है। पूरे मेला परिसर में समय पर सफाई भी नहीं हो पा रही है। इसके साथ ही मेले में आए व्यापारियों द्वारा भी स्वच्छता की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं।

आज निकलेगी शिवरात्रि महोत्सव की मध्य जलेब

मंडी। अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव की मध्य जलेब आज निकलेगी। राजमाधव मंदिर में पूजा अर्चना के बाद जलेब का आयोजन परंपरा के अनुसार किया जाएगा। दूसरी जलेब की अगुबाई कर जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर करेंगे। जलेब अढ़ाई बजे के लगभग शुरू होगी।

देव ध्वनियों पर झूम रहे देवी-देवता

अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव में आए देवी देवताओं और देवलुओं के अंदाज भी निराले हैं। देवी देवता न सिर्फ यहां भक्तों को आर्शीवाद दे रहे हैं, बल्कि देवलुओं संग खूब नृत्य भी कर रहे हैं। जिसे देखने वालों के कदम एक जगह ठहर जा रहे हैं। सोमवार को भी देवलुओं ने देवध्वनियों पर खूब नृत्य किया। जिसे देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग उमडे़।

You might also like