‘नमस्ते ट्रंप’ में अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत कर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘ट्रंप बहुत बड़ा सोचते हैं’

अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप का आज दो दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया। पीएम नरेंद्र मोदी ने मोटेरा स्टेडियम में अमेरिकी राष्ट्रपति का जोरदार स्वागत किया। उन्होंने नमस्ते ट्रंप, नमस्ते ट्रंप, नमस्ते ट्रंप कहकर अपने भाषण की शुरुआत की। उसके बाद स्टेडियम में मौजूद जनसैलाब से इंडिया यूएस फ्रेंडशिप के साथ लॉन्ग लिव का नारा लगवाया। प्रधानमंत्री ने अपने स्वागत भाषण में कहा कि प्रेजिडेंट ट्रंप बहुत बड़ा सोचते हैं, इसलिए अमेरिकी सपने को साकार करने में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि ट्रंप प्रशासन में भारत और अमेरिका का रिश्ता नए दौर में पहुंच गया है।आज मोटेरा स्टेडियम में एक नया इतिहास बन रहा है। आज हम इतिहास में दोहराते हुए भी देख रहे हैं। पांच महीने पहले मैंने अपनी अमेरिकी यात्रा की शुरुआत ह्यूस्टन में हुए हाउडी मोदी कार्यक्रम से की थी और आज मेरे दोस्त प्रेजिडेंट डॉनल्ड ट्रंप अपनी ऐतिहासिक भारत यात्रा का आरंभ अहमदाबाद में नमस्ते ट्रंप से कर रहे हैं। आइए जानते हैं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण की बड़ी बातें…

इतनी लंबी यात्रा के बाद भी सीधे साबरमती आश्रम गए और फिर यहां मोटेरा स्टेडियम में हैं। दुनिया की सबसे बड़ी डिमॉक्रसी में आपका हृदय से बहुत-बहुत स्वागत है। भारत-अमेरिका का रिश्ता नए दौर में है।प्रेजिडेंट ट्रंप! आप जिस धरती पर हैं, वहां 5 हजार साल पुराना धौलाविरा रहा है और उतना ही पुराना सी पोर्ट लोथल भी रहा है। आप उस साबरमती के तट पर हैं जिसका भारत की आजादी में अहम स्थान रहा है।आज आप विविधता से भरे उस भारत में हैं जहां सैकड़ों भाषाएं बोली जाती हैं, सैकड़ों तरह के परिधान हैं, सैकड़ों तरह के खान-पान हैं, अनेकों पंथ और समुदाय हैं। हमारी यह समृद्ध विविधता, विविधता में एकता भारत और अमेरिका के बीच मजबूत रिश्ते का बहुत बड़ा आधार है।एक लैंड ऑफ दी फ्री है तो दूसरा पूरे विश्व को एक परिवार मानता है। एक को स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी पर गर्व है तो दूसरे को दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा सरदार पटेल की स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का गौरव है।
साझा मूल्य और आदर्श, एंटरप्राइज और इनोवेशन की साझी स्पिरीट, साझा अवसर और चुनौतियां, साझा उम्मीद और आकांक्षाएं। हमारे बीच बहुत कुछ साझा है।प्रेजिडेंट ट्रंप की लीडरशिप में भारत और अमेरिकी की दोस्ती और अधिक गहरी हुई है। इसलिए, प्रेजिडेंट ट्रंप की यह यात्रा भारत-और अमेरिका के संबंधों का नया अध्याय है। एक ऐसा अध्याय जो अमेरिका और भारत के लिए प्रगति और समृद्धि का नया दस्तावेज बनेगा।फ्रेंड्स, प्रेजिडेंट बहुत बड़ा सोचते हैं और अमेरिकी सपने को साकार करने के लिए उन्होंने जो कुछ किया है, दुनिया उससे भली भांति परिचित है। आज हम पूरे ट्रंप परिवार का विशेष अभिनंदन करते हैं।
इवांका दो साल पहले भारत आईं थीं। तब आपने कहा था कि मैं दोबारा भारत आना चाहूंगी। आप यहां फिर से आई हैं। आज आप फिर यहां हैं- बहुत खुशी हो रही है।भारत और अमेरिका के साथ ही पूरी दुनिया प्रेजिडेंट ट्रंप को सुनना चाहती है। मैं 130 करोड़ भारतीयों की तरफ से प्रेजिडेंट ट्रंप निमंत्रित करता हूं।

You might also like