न्यू स्टेट लाइब्रेरी में कैंटीन भी

सुबह से शाम आठ बजे तक प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों को मिलेगा लाभ

शिमला  – राजधानी शिमला के चौड़ा मैदान में बनाई गई स्टेट लाइब्रेरी में अब कैंटीन की सुविधा भी छात्रों को दी जाएगी। अब चाय कॉफी या खाना खाने के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले युवा या फिर बुजुर्ग व छोटे बच्चों को रिज व मॉल नहीं जाना पड़ेगा। शिक्षा विभाग न्यू स्टेट लाइब्रेरी में कैंटीन खोलने के लिए जल्द ही टेंडर प्रक्रिया पूरी करने वाला है। बताया जा रहा है कि यह टेंडर उसी व्यक्ति को दिया जाएगा, जो सबसे कम रेट खाने पीने के  कैंटीन में रखेगा। दरअसल शिक्षा विभाग ने फैसला लिया है कि स्टेट लाइब्रेरी में खुलने वाली कैंटीन में युवाओं को ज्यादा पैसे न चुकाने पडं़े, यही वजह है कि सस्ते दामों में खाना देने वाले को टेंडर देने की योजना है। बता दें कि न्यू स्टेट लाइब्रेरी शुरू हो गई है। इसमें इन दिनों छात्रों ने पढ़ाई करना शुरू कर दिया है। रिज मॉल से दूर होने की वजह से यहां छात्रों को चाय कॉफी पीने के लिए दूर जाना पड़ता है। बता दें कि पहले से शिमला की न्यू स्टेट लाइब्रेरी 24 घंटे खुली रखने का फैसला शिक्षा विभाग ने लिया है। जल्द शिक्षा विभाग प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों को यह सुविधा प्रदान करने वाला है। बताया जा रहा है कि विभाग ने सात मंजिला इस लाइब्रेरी की सुरक्षा के लिए यहां सुरक्षा कर्मियों को तैनात करने का फैसला लिया है। हर वक्त दो सुरक्षा कर्मी यहां तैनात रहेंगे। इसके साथ ही लाइब्रेरी में आने जाने वाले हर छात्रों पर भी नजर रखी जाएगी। यानी कि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्रों के बीच कोई हुड़दंगी तो नहीं है, इस बात का विशेष ध्यान रखा जाएगा। इसके साथ ही अब कैंटीन की सुविधा भी इसी भवन में देने से छात्रों की कई दिक्कतें दूर हो जाएंगी।

दस करोड़ से बनी है लाइब्रेरी

बता दें कि इस भवन की अनुमानित लागत 15 करोड़ रुपए थी, जबकि काम 10 करोड़ से हो गया। इस भवन में पुस्तक के स्थान के अतिरिक्त, अध्ययन कक्ष, पटल, लाइब्रेरियन कक्ष, पुस्तक पुस्तकालय से निकालने व जमा करने के लिए कक्ष, कंप्यूटर अनुभाग, डिजिटलाइजेशन अनुभाग, तकनीकी अनुभाग, कैंटीन, बाइंडिंग क्षेत्र, सर्वर कक्ष और बिजली कक्ष आदि शामिल होंगे।  

You might also like